विटामिन की कमी से होने वाली बीमारियां तथा उनका निवारण कैसे करें

2
1498

vitamins विटामिन जरूरी विटामिंस कौन सी है। और इन विटामिनों का हमारे शरीर पर क्या प्रभाव है। और इसके लाभ क्या है। तथा इनकी पूर्ति कैसे करें। इस सब की जानकारी आपको इस पोस्ट में विस्तारपूर्वक दी जाएगी।

विटामिन की कमी से होने वाली बीमारियां तथा उनका निवारण कैसे करें।

आइए जानते हैं Losses from lack of vitamins to the body.

विटामिन ए – Vitamins A

इसकी कमी से आंखें कमजोर हो जाती हैं। नेत्रों में कई प्रकार के रोग तथा दांत जल्दी मिलने लगते हैं। विटामिन ए के लिए चौलाई पत्तागोभी धनिया मूली के पत्ते पोदीना मेथी गाजर और मक्खन आदि का सेवन करना चाहिए।

विटामिन b की कमी से होने वाले रोग

विटामिन बी की कमी से शरीर की मांसपेशियों में कमजोरी आ जाती है। अंग भारी भारी हो सा लगने लगता है। और झनझनाहट से महसूस होती है। इसकी कमी को दूर करने के लिए बंद गोभी गाजर, दूध, हरी शाक और खमीर का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए।

विटामिन c की कमी से होने वाले रोग

विटामिन सी की कमी से मुख का पीलापन आ जाता है। शरीर में दर्द रहने लगता है। मसूड़े फूलने लगते हैं या पएरियाँ का रोग हो जाता है। शरीर में खून की कमी हो जाती है। सर्दी, निमोनिया, फ्लू आदि रोग जल्दी-जल्दी होते हैं। संतरा नींबू मौसम्मी, आदि रसदार फलों का अधिक से अधिक मात्रा में इस्तेमाल करना हितकर रहता है। विटामिन सी की कमी को दूर करने के लिए आंवले का सेवन बहुत ही बढ़िया रहता है।

विटामिन डी की कमी से होने वाले रोग

विटामिन डी की कमी से हड्डियों के रोग हो जाते हैं
सूखा या स्तनों का बेडौल हो जाना फूली हुई नसों या फूली हुई कमजोर हड्डियां दिखाई देने लगती है
विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए सूर्य का प्रकाश लेना चाहिए। यह सबसे उत्तम स्रोत है जो विटामिन डी की मात्रा को पूरा करता है इसके साथ साथ बादाम का सेवन बहुत ही लाभदायक है।

विटामिन e की कमी से होने वाले रोग

विटामिन इ की कमी से शरीर में कमजोरी हो जाती है पुरुषों में नामर्दी, नपुंसकता और महिलाओं में बांझपन आदि रोग होते हैं

विटामिन की कमी से होने वाली बीमारियां तथा उनका निवारण कैसे करेंइसी कमी को पूरा करने के लिए भोजन में हरी पत्ती के शाक सब्जी का प्रयोग करना चाहिए।

विटामिन k की कमी से होने वाला रोग

इसकी कमी से शारीर में खून नहीं बनता है। इसके लिए गोभी, पलक,टमाटर और सोयाबीन को नियमित खाने खाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here