Tag Archives: jhansi ki rani dialogues hindi

रानी लक्ष्मी बाई पर कविता Poem on the Rani of Jhansi

Poem on the Rani of Jhansi – रानी लक्ष्मी बाई पर कविता खूब लड़ी मर्दानी वह तो झाँसी वाली रानी थी सिंहासन हिल उठे राजवंशों ने भृकुटी तानी थी, बूढ़े भारत में आई फिर से नयी जवानी थी, गुमी हुई आज़ादी की कीमत सबने पहचानी थी, दूर फिरंगी को करने की …

Read More »