असली एवं प्रामाणिक सियार सिंगी

Siyar singhi : असली एवं प्रामाणिक सियार सिंगी कैसे और कहाँ से ले

Search Tags : original siyar singhi kaha milegi price in hindi how to keep puja ki vidhi price online

यह गाँठ सभी गीदड़ों के सिर पर नहीं पाई जाती है, बल्कि केवल कुछ गीदड़ों के सिर पर होती है। शिकारी और जंगली प्रजातियों के लोग ऐसे गीदड़ को पहचानते हैं और मार देते हैं। और सियार सिंगी प्राप्त है। असली सियार सिंघी आंवले के आकर की होती है। यदि कोई इसे पाता है, तो इसे शुभ नक्षत्र में विधि के नियम से सिद्ध किया जाना चाहिए।

Siyar Singhi कैसे और कहाँ से ले असली एवं प्रामाणिक सियार सिंगी

यह एक तांत्रिक वस्तु है, जिसका उपयोग आकर्षण, वशीकरण, सम्मोहन, सुरक्षा, प्रसिद्धि बढ़ाने, धन, सुख, शांति के लिए किया जा सकता है। सियार सिंगी का उपयोग शत्रु पराजय, सामाजिक सम्मान, शरीर की सुरक्षा और समृद्धि के लिए किया जा सकता है। इसके साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि इसका अधिकांश हिस्सा नकली पाया जाता है, असली को ढूंढना मुश्किल है। किसी शुभ तांत्रिक मुहूर्त में प्राण प्रतिष्ठितऔर अभिमंत्रित सियार्सिंगी आपदा से बचाव करने के लिए युद्ध,संकट , से बचानेवाला भी सिद्ध होता है।

कहा से प्राप्त करे सियार सिंघी

सियार सिंगी ज्यादातर शिकारी जंगलो में रहने वाले लोग, आदिवासी, नट, पत्थरकट लोगो क पास आसानी से मिल जाती है।

असली की पहचान

यह पता करने के लिए की यह असली है या नकली। इसको सिंदूर में डाल कर रखा जाता है। सिंदूर में रखने पर इसके बाल बढ़ाने लगते है। यदि बाल नहीं बढ़ते तो यह सिंगी नकली है। यह परीक्षण तुरंत नहीं हो पता इसको कुछ हफ्तों तक रखना पड़ता है।

Siyar Singhi

इसके ऊपर नरम बाल होता है और इसमें गेहूं के दाने के बराबर छोटा सींग या काला सींग होता है। यह परम शक्तिशाली और प्रभावी वस्तु है। इसका उपयोग व्यक्ति के लिए तांत्रिक विधि से किया जाता है। धन-सम्पति, वशीकरण, शत्रु शमन मे व्यक्ति सशक्त ही जाता है। जिस व्यक्ति के पास यह होती है। उसे किसी बात कि कमी नहीं होती। उसकी सारी इच्छाये अपने आप पूरी हो जाती है।

आप हमसे  Facebook, +google, Instagram, twitter, Pinterest और पर भी जुड़ सकते है ताकि आपको नयी पोस्ट की जानकारी आसानी से मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.