SEO in Hindi एसईओ क्या है क्या है और क्यों इसकी जरूरत है
SEO क्या है और क्यों इसकी जरूरत है – Meaning in Hindi

SEO क्या है – search engine optimization Kya hai Hindi

what is keyword in seo in hindi/seo in hindi/on page seo in hindi/what is local seo in hindi/advance seo in hindi/seo tools in hindi.

Search engine optimization ये Google, Yahoo, being, etc सभी Popular Search Engines है जब भी हम किसी प्रोडक्ट के बारे में सर्च करते हैं तो हमेें search engine optimization ki मदद से करते हैं। एसईओ एक प्रोसेस है अपने ब्लॉग आर्टिकल या वेबसाइट को गूगल के फस्र्ट पेज पर लाने का जिससे आपकी वेबसाईट या ब्लॉग का ट्रैफिक बढाया जा सकता है।

सर्च इंजन एक डाटा स्टोर की तरह है जब भी हमें कुछ सर्च करते हैं और हम अपने प्रोडक्ट से रिलेटिड result मिलते हैं। इन्टरनेट की दुनिया में google सबसे बड़ा सर्च इंजन है और सबसे ज्यादा लोग Google पर ही सर्च करते हैं।

सर्च इंजन रिजल्ट पेज

हम गूगल पर सर्च करते हैं S.E.O क्या है तो हमें गूगल पर जो Result Show होते है उसे सर्च इंजन रिजल्ट पेज करते हैं। ये अलग-अलग टॉपिक से रिलेटेड हैं, जब भी कोई Person गूगल पर कूछ भी सर्च करता है तो गूगल के क्रॉलर होते हैं। क्रॉलर एक रोबोट टाइप होते हैं जो अलग-अलग टॉपिक जो सर्च होते हैं उन्हें क्रॉल करता है और Result Page पर Show करता है।

एसईओ क्या है  और क्यों इसकी जरूरत है – क्या आप भी इस सवाल से परेशान हैं? >>   

फ़िक्र मत कीजिए

मैं आपको SEO के बहुत ही आसान तरीके के बारे में बताऊंगा। ये तो हम सभी जानते हैं कि SEO का मतलब होता है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (search engine optimization)।किसी भी वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ाने के लिए SEO किया जाता है।

कोई भी Website  बनाई जाती है ताकि लोग उसे देख सकें। पढ़ सके। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि वेबसाइट बनाना और उसका लोगो का इसको देखना दो अलग-अलग चीजें हैं।वेबसाइट बनाने के लिए प्रोग्रामिंग लैंग्वेज या वर्डप्रेस का उपयोग होता है।

SEO करने से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक वेबसाइट की Connectivity होती है।

Search Engine Optimization Meaning in Hindi 

एसईओ एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग हम खोज इंजन में आपकी वेबसाइट की जैविक रैंकिंग बढ़ाने के लिए कर सकते हैं।

एसईओ सरल शब्दों में – 

SEO in hindi वह तरीका है जिससे हम अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन के टॉप पर ले जा सकते है। ताकि अधिक से अधिक लोग इसे देखेंगे।

वेबसाइट पर ट्रैफिक जरूरी है क्योंकि ज्यादा ट्रैफिक मतलब ज्यादा इनकम।

Searchengineland (जो की SEO field कि एक बहुत ही popular website है ) Searchengineland के अनुसार –

” It is the process of getting traffic from the “free,” “organic,” “editorial” or “natural” search results on search engines.”

एसईओ यानी  Search Engine Optimization

सर्च इंजन से ट्रैफ़िक प्राप्त करने की  यह ” मुक्त, “” कार्बनिक, “” संपादकीय “या” प्राकृतिक ” प्रक्रिया है।”

SEO सीखने के लिए कुछ टिप्स है ?

SEO एक बहुत विशाल क्षेत्र है। और यह बहुत दिलचस्प भी है। मैं 2010 से इस क्षेत्र में हूं लेकिन अगर आप SEO में शुरुआती हैं और इसे सीखना चाहते हैं, तो मैं आपको सही सलाह दूंगा। ताकि आप भी अपने website की Traffic Increase   सके।

सबसे पहले SEO की मूल बातें समझ लें

कुछ ऐसे शब्द हैं जो आप सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन में बार-बार सुनेंगे,

उदाहरण के लिए –

#Search Engine क्या हैं और वे कैसे काम करते हैं?

Google, Yahoo, Bing आदि सभी लोकप्रिय Search Engine हैं।

Search Engine की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जब भी कुछ जानकारी की जरूरत होती है तो हम इसे गूगल पर जाकर ढूंढते हैं।

खोज इंजन के अपने नियम हैं (जैसे, एसईओ, Algorithms के शब्द में)।

उसी के आधार पर वह किसी भी वेबसाइट को रैंकिंग देता है।

#SERP क्या है?

खोज इंजन परिणाम पृष्ठ (SERP) – Search engine result page .

जब आप Google में खोज बॉक्स में कुछ लिखते हैं तो वह पृष्ठ खुलता है जिसे SERP कहा जाता है।

SERP क्या है?
Search engine result page (SERP).

Organic और inorganic results क्या है ?

SERP पर दो तरह की लिस्टिंग होती है – Organic और inorganic हमें Inorganic Listing के लिए Google को भुगतान करना होगा।Organic listing free है, यानी हम गूगल के टॉप पेज पर आ सकते हैं।लेकिन इसके लिए SEO करना होगा। SEO की मदद से हम Google के Top Results में आ सकते हैं।

Keyword Research कैसे करें।

कीवर्ड रिसर्च केलिए आपको ऑनलाइन बहुत सारे टूल्स मिल जाएंगे, गूगल दुनिया की सबसे बड़ी सर्च इंजन है. इसको USE करके अप्प अपनी Post  केलिए एक अच्छा सा कीवर्ड निकल सकते है, जो की लोंगटैल होगा और आसानी से रैंक भी हो पायेगा. Keyword Research करने का सही तरीका- Hindi tutorial

On-page SEO सीखे

On-page SEO का हमारा मकसद किसी article को natural पर smart way में SEO optimize करना होता है

ताकि search engines आसानी से target keyword को pick out कर सकें और

आपकी website पर targated लोगों को send कर सकें.

Off – page SEO सीखें

Off-Page Seo के main 4 elements है :
1. Links,
2. Trust,
3. Personal And
4. Social
  •  Links : सबसे पहले सर्च इंजिन ये देखता है की आपकी साइट को कहाँ कहाँ से और कितने links मिले हुए है. फिर वो links की quality और text (anchor ) क्या है उसका समावेश किया जाता है.
  • Trust : उसके बाद website का trust उसकी domain authority, page authority, domain history और website की security को check कि जाती है.
  •  Personal : इस section मे website की country और locality और author की history को भी check किया जाता है.
  • Social : इस section ने website का social media पे reputation, shares/likes और links उसका समावेश किया जाता है.

Local SEO सीखें

इन सभी concepts को practically apply करें और analyze करें।

SEO करना क्यों जरुरी है ????  

जब 90% से अधिक लोग Google जैसे खोज इंजन पर कुछ खोजते हैं, तो केवल वेबसाइटों की पहले पृष्ठ पर जाते है तो बहुत से लोग दूसरे पेज पर ही जाते हैं। हमारी वेबसाइट या ब्लॉग पर ट्रैफ़िक बढ़ाने के लिए SEO करना ज़रूरी है। SEO के द्वारा हम बिना Google के Top Page पर आ सकते हैं। आज किसी भी चीज के बारे में जानने के लिए लोग सबसे पहले google पर Search करते हैं।

ऐसे में अगर आप Google के Top Page पर जाते हैं, तो यह आपके ब्रांड के सद्भावना के लिए भी अच्छा है। क्योंकि “जो दिखता है, वो बिकता है।”

यदि आपके पास search engine optimization के बारे में प्रश्न हैं तो आप उन्हें टिप्पणी अनुभाग में पूछ सकते हैं।

Read Also :

Google Analytics kya hai hindi tutorial
VPA क्‍या है और UPI कैसे काम करता है?
Android के लिए 5 बेस्ट हिडन कॉल रिकॉर्डिंग एप्स
सिबिल स्कोर क्या है और यह कितना होना चाहिए?
How to Choose the Best WordPress Hosting

Share & Like This article on Social Platform : Facebook – Twiter – Youtube

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.