Uncategorized

satsang story in hindi गुरु करो जानकार

DigitalOcean से क्लाउड होस्टिंग ख़रीदे | Simple, Powerful Cloud Hosting‎

Build faster DigitalOcean पर 2 महीने की मुफ्त होस्टिंग है।. Spin up an SSD cloud server in less than a minute. And enjoy simplified pricing. Click Signup

अब खोलें 100% मुफ़्त* डीमैट और ट्रेडिंग खाता! 0* एएमसी लाइफटाइम के लिए
मुफ्त डीमैट खाते के लिए साइनअप करें
ऑनलाइन अकाउंट खोले  

satsang story in hindi : एक राजा महात्मा जी के पास जंगल में जाया करते थे. एक दिन राजा ने महात्मा जी से प्रार्थना की कि वो चलकर उनके महलों में रहे. महात्मा ने उनकी प्रार्थना स्वीकार कर ली. राजा ने महात्मा जी कि सारी व्यवस्था कर दी. खाना बनाने के लिए एक महाराजिन रख दिया. कुछ दिन बाद महाराजिन और महात्मा जी को लेकर खुसुर फुसुर होने लगी.

satsang story in hindi : Guru Karo Jaankar

राजा से किसी को कहने की हिम्मत नहीं थी, रानी के पास लोगो ने आकर चर्चा की. रानी ने राजा से लोगो के विचार बताये और कहा की यह ठीक नहीं हो रहा है. satsang story in hindi
राजा ने कहा कि रानी! मेरे मन में तो कोई बात नहीं आई लेकिन तुम्हारा मन भ्रमित हो गया.
तो तुम जाकर महाराजिन के पैर छुओ और उसको सम्मान का दर्जा दो और वो अब खाना नहीं बनाएगी. यह काम अब तुम संभालोगी. कुछ दिन बाद महात्मा ही ने व्रत किया एक महीने का. उन्होंने राजा से कहा कि यह व्रत मेरा एक फल से टूटेगा और उसे तुम लेकर आओगे. राजा का विश्वास अटूट था. satsang story in hindi
उसमे कहा महाराज आप बताएं कहा मिलेगा मैं लेकर आऊंगा. महात्मा जी ने राजा को एक कठिन मार्ग बताया और कहा सात दिन के भीतर लेकर आना.
गुरु आदेश देते हैं तो सँभालते भी हैं. सच्चे भक्त की लाज रखते हैं और उस पर आंच नहीं आने देते. राजा चल पड़ा उसे बीहड़ मार्ग पर. महात्मा जी उसकी रक्षा करते रहे अनेक रूपों में. satsang story in hindi
आखिर में सब रास्तो को तय करता हुआ राजा वो फल लेकर गुरु की सेवा में हाजिर हो ही गया. गुरु को ऐसे शिष्य पर गर्व होता है. गुरु ने मुग्ध भाव से राजा से कहा राजन! यह फल तुम अपने हाथ से काटो और मुझे दो. राजा ने फल के दो टुकड़े किये और गुरु के आगे बढाया. उसमे कुछ दाग नजर आये. महात्मा जी ने कहा की राजन यह दाग कैसा है देखो तो. राजा ने गौर से देखा तो उस पर लिखा था – तुम्हारी भक्ति पूरी हुई मैं तुमसे प्रसन्न हूँ. राजा ने महात्मा जी के चरण पकड़ लिए. महात्मा ही ने कहा राजन तुम्हारा काम हो गया अब मुझे फिर वापस जंगल चले जाने दो और महात्मा जी वापस जंगल चले गए.satsang story in hindi
परम पूज्य स्वामीजी महाराज कहते हैं कि गुरु करो जानकार पानी पियो छानकर एक बार गुरु को ठोक बजा लो जब आपको पूरा भरोसा हो जाए तो फिर आँख मूंदकर उनके पीछे चल पड़ो. तभी तुम्हारा काम बनेगा. तुम उनकी आज्ञा पर चलते रहोगे भक्त बनोगे तो तुम्हारे हर कदम के नीचे अपना हाथ रख देंगे ताकि तुम्हे काटा न चुभे. satsang story in hindi
 
guru nanak moral stories in hindi गद्दी का मालिक
hindi moral story for children असली बलि
ईमान को खराब कर देता है Stories For Kids in Hindi
बनावटी दर्द hindi short moral stories
panchtantra ki kahaniya गरीबों की झोंपड़ी का मूल्य एक गरीब ही जानता है
एक भैंसे पर 12 शेरों का हमला अजब गज़ब अनूठे संघर्ष की कहानी
ये दुनिया के 10 सबसे महंगे मोबाइल फोन हैं।
hindi devotional stories करम बरस रहे हैं

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

अब खोलें 100% मुफ़्त* डीमैट और ट्रेडिंग खाता! 0* एएमसी लाइफटाइम के लिए
मुफ्त डीमैट खाते के लिए साइनअप करें
ऑनलाइन अकाउंट खोले