Stone

सफेद पुखराज की विशेषताएँ तथा धारण करने से लाभ | white topaz Benefits in hindi

(Safed Pukhra) सफेद पुखराज एक रंगहीन सेमीप्रीशियस स्‍टोन है जिसका वैदिक ज्‍योतिष में महत्‍व है। English name : white topaz

क्‍यों पहनें सफेद पुखराज: white topaz

ये मिथुन राशि का बर्थ स्‍टोन है। वैदिक ज्‍यातिष में इसे शुक्र ग्रह के रत्‍न के रूप में देखा गया और वृष और तुला का राशि रत्‍न कहा गया। Safed Pukhraj लग्‍जरी, आर्ट और लव देने वाला रत्‍न होता है।

सफेद पुखराज के लाभ:

यह रत्‍न शुक्र ग्रह से संबंधित है इसलिए इसे धारण करने से प्‍यार, पैशन, कला और लग्‍जरी जीवन में शामिल होते हैं। सम्‍पन्‍नता और उसका एहसास दिलाता है। यह रत्‍न उन लोगों को धारण करना चाहिए जो फैशन इंडस्‍ट्री, कला, गायन और दूसरी क्रिएटिव क्षेत्र से जुड़े हैं।
Safed Pukhraj जीवन को लग्‍जरी से भर देता है। ऐशो-आराम के सारे सामान, नौकर-चाकर, बड़ी-बड़ी कारें इन्‍हें मिलती हैं। सेहत के लिए भी यह बहुत फायदेमंद होता है, ये यूरिनरी सिस्‍टम, रिप्रोडक्‍टिव हेल्‍थ के लिए बहुत लाभदायक होते हैं।
  • जिन कन्याओं का विवाह न हो पा रहा हो अथवा विवाह में विघ्न आ रहा हो यदि ऐसी कन्याएं पुखराज रत्न धारण करे तो विवाह शीघ्र संपन्न हो जाता है।
  • जिनको सन्तान एवं पति सुख का आभाव है पुखराज रत्न धारण से सुख प्राप्त होता है। पुखराज रत्न धारण करने से अनेक प्रकार के शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक एवं दैविक विक्षेप शान्त होते हैं।

सफेद पुखराज की कीमत: white topaz Price

प्राकृतिक, अनहीटेड सफेद पुखराज की कीमत 1600 से 20 हजार रू. प्रति कैरेट होती है। ज्‍योतिष के लाभ के लिए ऐसा माना जाता है कि चमकदार पुखराज ही अच्‍छा होता है।

सफेद पुखराज खरीदने के दौरान ध्‍यान देने योग्‍य बातें:

किसी भी रत्‍न को खरीदने से पहले उसकी शुद्धता की जांच अवश्‍य कर लेनी चाहिए। रत्‍नों को अपने जानने वाले डीलर से लें या फिर पहले उनके काम को अच्‍छी तरह से जांच ले फिर वहां से रत्‍नों की खरीदारी करें। रत्‍नों को अगर ज्‍योतिषीय रेमिडी के लिए पहनना हो तो रत्‍न सस्‍ता हो या महंगा उसकी शुद्धता के विषय में किसी अच्‍छी लैब का सर्टिफिकेट अवश्‍य देंखे और खुद भी इंटरनेट के माध्‍यम से और विशेषज्ञों से इसके विषय में जानकारी ले लें।
पीला पुखराज की कीमत व लाभ

सफेद पुखराज के गुण

स्‍पष्‍टता, शेप और क्‍वालिटी इस रत्‍न की गुणवत्‍ता का पैमाना है। यह चितना चमकदार, सपाट और एक रंग का होगा उतना ही अच्‍छा होता है।

सफेद पुखराज पहनने की विधि

सफेद पुखराज किस उंगली में पहने
अंगूठी को प्राप्त कर लेने के पश्चात इसे धारण करने से 24 से 48 घंटे पहले किसी कटोरी में गंगाजल अथवा कच्ची लस्सी में डुबो कर रख दें। कच्चे दूध में आधा हिस्सा पानी मिलाने से आप कच्ची लस्सी बना सकते हैं किन्तु ध्यान रहे कि दूध कच्चा होना चाहिए अर्थात इस दूध को उबाला न गया हो। रत्न को धारण करने के दिन प्रात उठ कर स्नान करने के बाद इसे धारण करना चाहिए। रत्न से संबंधित ग्रह के मूल मंत्र, बीज मंत्र अथवा वेद मंत्र का 108 बार जाप करें। इसके बाद अंगूठी को कटोरी में से निकालें तथा इसे अपनी उंगली में धारण कर लें।
सफेद पुखराज किस उंगली में पहने : पुरुष को रत्न दाहिने हाथ में एवं स्त्री को बायें हाथ में धारण करना चाहिए। यदि व्यक्ति विशेष बायें हाथ से काम करता है, या कोई स्त्री पुरुष की भांति काम-काज करती है, तो भी स्त्री को बायें एवं पुरुष को दायंे हाथ में ही रत्न धारण करना चाहिए। छोटी अंगुली में हीरा एवं पन्ना, अनामिका में माणिक, मोती, मूंगा तथा लहसुनिया, बीच की अंगुली में नीलम तथा गोमेद एवं तर्जनी में पुखराज पहनना उत्तम है।

कहां से प्राप्‍त करें:

white topaz- रत्‍नों और जेम स्‍टोन के बढ़ते चलन के कारण हर ज्‍वेलर के पास यह रत्‍न मिल जाएगा लेकिन यह जरूरी नहीं हो कि वह प्राकृतिक हो क्‍योंकि लगभग सभी जेमस्‍टोन के सेन्‍थेटिक रूप तैयार किए जा सके हैं।
इसके अलावा ऑन लाइन भी इस रत्‍न को या उससे बनी अंगूठी, ब्रसलेट आदि को खरीदा जा सकता है। यहां इस बात का ध्‍यान रखें कि रत्‍न से संबंधित सर्टिफिकेट अवश्‍य देख लें।

white topaz price online

[content-egg module=Amazon template=list]

इन्हे भी पढ़े :

About the author

inhindi

हम science, technology और Internet से संबंधित चीजों से संबंधित जानकारी शेयर करते हैं। Facebook, Twitter, Instagram पर हमें Follow करें, ताकि आपको ट्रेंडिंग टॉपिक पर Latest Updates मिलते हैं।

Leave a Comment