मुंह से आती है बदबू तो करें, ये आसान घरेलू उपाय

मुंह से आती है बदबू तो करें, ये आसान घरेलू उपाय

मुंह की बदबू के घरेलू उपाय (Halitosis): हमारे और आपके बीच बहुत से लोग हैं, जिनका ड्रेसिंग सेंस और उनका Look कमाल का है, लेकिन जब भी वे किसी करीबी से बात करते हैं और उनका मुंह की बदबू (Bad Breath in hindi) दूसरों को महसूस होता हैं, तो वे खुद को सबके सामने निचा पाते हैं क्यूंकि उनके सांसो से बदबू आती है। इसे मेडिकल भाषा में halitosis भी कहा जाता है,

यह शर्मनाक हो सकता है और कुछ मामलों में चिंता का कारण बन सकता है। ऐसा नहीं है कि Halitosis समस्या को ठीक नहीं किया जा सकता है। बहुत कम लोग जानते हैं कि मुंह या सांस की बदबू से बचने के उपाय लिए बाजार में उपलब्ध माउथवॉश उत्पादों का सहारा लेते है, लेकिन केवल कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखने से मुंह की दुर्गंध की समस्या को दूर किया जा सकता है।

मुंह की बदबू के लक्षण क्या है? – Symptoms of Bad Breath in Hindi

तेज गंध वाली चीजें खाने के अलावा, अगर आपके मुंह से बदबू आती है या कोई व्यक्ति बात करते समय अपनी नाक पर हाथ रखता है, तो इसे मजाक मत समझिए। अगर आप मुंह की बदबू के साथ इनमें से कोई भी लक्षण महसूस कर रहे हैं, तो तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लें –

  • दांतों का कमजोर होना या हिलना
  • लंबे समय से खांसी का रहना
  • बलगम आना
  • बुखार का चढ़ना और उतरना
  • बार-बार मुंह में छाले की समस्या बने रहना
  • नाक बहना
  • मसूड़ों में दर्द व सूजन
  • ब्रश करते समय खून आना

मुंह की दुर्गंध छिपाना सही नहीं है। यह शरीर में होने वाली किसी बड़ी बीमारी का संकेत भी हो सकता है, इसलिए इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। खासकर यदि उपरोक्त लक्षणों में से कोई भी दिखाई दे। ऐसे में थोड़ी सी भी लापरवाही आपके जीवन पर असर डाल सकती है।

सांस की बदबू क्या कारण होते है? What causes bad breath in hindi

 

सांस की बदबू की समस्या को खत्म करने के लिए, इसके कारण को जानना बहुत जरूरी है। हमारे मुंह का अच्छा स्वास्थ्य एक संकेत है कि हमारा शरीर भी स्वस्थ है। इसके विपरीत यह किसी बड़ी बीमारी का लक्षण भी हो सकता है।

हां, सांसों की बदबू (Halitosis) न केवल मुंह की सफाई से संबंधित है, बल्कि यह कई बीमारियों से भी संबंधित है। आइये जानते हैं मुंह से बदबू आने के क्या कारण होते हैं –

  • मुंह का अल्सर
  • दांतों में पस आना
  • दांतों पर खाने का बचा हुआ अवशेष
  • मसूड़ों में सूजन
  • तंबाकू का सेवन और धूम्रपान
  • कैंसर
  • साइनस इंफेक्शन
  • कमजोर पाचन शक्ति
  • किडनी में समस्या
  • पायरिया
  • जरूरत से ज्यादा डायटिंग करना
  • पानी का कम सेवन
  • डायबिटीज
  • साइनसाइटिस
  • कब्ज की समस्या
  • आंतों में खाने का सड़ना

मुंह की बदबू के घरेलू उपाय – Home remedies for Bad Breath in hindi

  • Halitosis : मुंह / सांस की बदबू दूर करने के कई उपाय हैं। यदि शुरुआत से ही मुंह की सफाई का ध्यान रखा जाए, तो स्थिति को सुधारा जा सकता है। मुंह की गंध आपके शरीर के साथ-साथ व्यक्तित्व के लिए भी सही नहीं है।

आइए जानते हैं कि आपकी जीवनशैली में किन बातों का ध्यान रखकर

Halitosis / सांसों की बदबू दूर करने के उपाय हैं –

  • ब्रश करने का मतलब सिर्फ ब्रश पर चिपकाना नहीं है। सही तरीके से ब्रश नहीं करने से मुंह के बैक्टीरिया खत्म नहीं होते हैं, इसीलिए बिना ज्यादा दबाव के दांतों और मसूड़ों को ब्रश करें, गोल घुमाएं और कम से कम 2-3 मिनट तक ऐसा करें। तब कहीं जाकर तुम्हारा मुँह साफ होगा।

सही ढंग से ब्रश करें – सही तरीके से ब्रश करें

 

  • प्याज-लहसुन खाने के बाद गंदी बदबू आती है। ऐसे में सौंफ, पुदीना, इलायची, शराब, भुना जीरा, धनिया आदि प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर हैं, जिन्हें खाने के बाद चबाना चाहिए। इससे मुंह की बदबू कम होती है।

प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर का सेवन

  • पेट खराब होने के कारण खाना ठीक से नहीं पचता है, यानी पाचन शक्ति कमजोर होती है। यह न केवल मोटापा बढ़ाता है, बल्कि सांसों की बदबू के कारण भी, रोजाना कम से कम 30 मिनट तक टहलना बहुत जरूरी है।

पैदल चलें

  • केवल दांत ही नहीं, बल्कि जीभ की सफाई भी बहुत जरूरी है। खाने-पीने की वजह से जीभ पर एक परत बन जाती है, जो सांसों की बदबू से हो सकती है, इसलिए रोजाना जीभ क्लीनर की मदद से अपनी जीभ को साफ रखें।

जीभ की सफाई भी जरूरी है

  • दांतों के बीच फंसे भोजन के टुकड़ों को हटाने के लिए, दांतों पर जमी हुई पट्टिका का अर्थ है, दांतों के बीच के दांतों को साफ करना। दांतों के बीच फ्लॉस लगाएं और धीरे से दांत की जड़ तक आगे-पीछे करें। यदि आप हर दिन ऐसा नहीं कर सकते हैं, तो सप्ताह में कम से कम 1-2 बार करें।

फ्लॉसिंग करते हैं

  • अगर आपको माउथ की बदबू दूर करनी है या इससे बचना है, तो सुबह अकेले ब्रश करने से काम नहीं चलेगा। सभी को सुबह और रात दोनों समय ब्रश करना चाहिए। रात को ब्रश न करने से, नींद से कीटाणु अधिक सक्रिय हो जाते हैं और दुर्गंध का कारण बनते हैं।

सुबह के साथ-साथ रात को भी ब्रश करें

  • शायद आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि खट्टे फल खाने से न केवल मुंह की बदबू में सुधार होता है, बल्कि इससे दांत भी मजबूत रहते हैं, इसलिए विटामिन-सी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

खट्टे फलों का सेवन

  • माउथ में सूखापन कम पानी पीने के कारण होता है, जिसके कारण बैक्टीरिया भी बुरा सांस विकसित करते हैं। पानी पीने से मुंह ताजा रहता है और दांतों में फंसे खाद्य तत्व भी आसानी से निकल जाते हैं। इससे दुर्गंध नहीं आती है, इसलिए खूब पानी पिएं।

खूब पानी पिए

  • बहुत अधिक मसालेदार भोजन, प्याज, लहसुन, अदरक, लौंग, काली मिर्च खाने से मुंह की दुर्गंध हो सकती है। इनका कम इस्तेमाल करें और जब भी कुल्ला करें या ब्रश करें, मुंह साफ करें।

मुंह से दुर्गंध हटाने के घरेलू उपाय / Halitosis – सांसों की दुर्गंध के लिए घरेलू उपचार

 

कई लोग हैं जो अपने माउथ की गंध को छिपाने की कोशिश करते हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि समस्या को छिपाने से इसका हल नहीं निकलता है। ऐसा करने से, बीमारियां अपना रूप ले लेती हैं, इसलिए यह अच्छा है कि समय में अपनी बुरी सांस को हल करें और ऐसा करना इतना मुश्किल नहीं है। यहां हम आपको घर की कुछ बुरी सांसों का इलाज बता रहे हैं, जिनसे आप मुंह की बदबू को दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं इन (Halitosis) घरेलू उपायों के बारे में –

सांसों की दुर्गंध का घरेलू उपचार

  • माउथ से दुर्गंध हटाने के घरेलू उपाय / Bad Breath – सांसों की दुर्गंध के लिए घरेलू उपचार
  • रोजाना शराब चबाने या चूसने से मुंह की बदबू दूर होती है।
  • अनार के छिलके को पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ला करने से सांसों की दुर्गंध ठीक हो सकती है।
  • मुंह से जुड़ी बीमारियों के लिए लौंग बहुत कारगर है।
  • खाने के बाद सौंफ और मिश्री चबाएं। यह माउथ फ्रेशनर का काम करता है।
  • मुंह की बदबू को दूर करने के लिए लौंग को भूनकर मुंह में रखें और चूसें। एक हफ्ते तक ऐसा करने से यह समस्या दूर हो जाएगी।
  • त्रिफला की छाल को मुंह में रखकर चबाने से भी सांसों की दुर्गंध ठीक होती है।
  • लौंग और इलायची का पेस्ट बनाकर दांतों पर लगाएं और उंगली से रगड़ें। फिर पानी से कुल्ला।
  • सूखा धनिया एक अच्छा माउथफ्रेशनर भी है। इसे मुंह में रखकर चबाने से मुंह की दुर्गंध दूर होती है।
  • पुदीने को पीसकर पानी में घोलकर दिन में दो-तीन बार कुल्ला करें। मुंह की बदबू के साथ अन्य मौखिक रोग भी ठीक हो जाएंगे।
  • मुंह की बदबू को दूर करने के लिए अजवाइन एक औषधि के रूप में भी काम करती है। चाहे वह अजवाइन को भिगोकर रखा गया हो या उसका पानी पीना हो या हल्के से तवे पर भूनना हो और फंकी लगाई हो।
  • माउथ / सांस की गंदी बदबू को दूर करने के लिए आप मेथी से बनी चाय भी ले सकते हैं। यह मुंह में मौजूद बैक्टीरिया को मारता है।
  • सेब का सिरका कई मायनों में बेहद फायदेमंद साबित होता है। मुंह की बदबू दूर करने के लिए एक गिलास पानी में 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और इससे गरारे करें। आपको कुछ ही दिनों में फर्क नजर आने लगेगा।
  • तुलसी के पत्ते चबाने से भी मुंह की बदबू दूर होती है।
  • मौखिक देखभाल के लिए फिटकरी बहुत फायदेमंद है। हां, रात को सोने जाने से पहले आधा गिलास में फिटकरी का एक टुकड़ा डालें। 5 मिनट के बाद, इसमें से फिटकरी का एक टुकड़ा निकाल लें और इसे पानी से धो लें। मुंह की बदबू से लेकर पायरिया तक सब कुछ सही हो जाएगा।
  • एक गिलास पानी में अदरक का रस मिलाकर दिन में दो से तीन बार कुल्ला करने से Breath smells मुंह से दुर्गंध आती है।
  • गुलाब की ताज़ी पंखुड़ियों को चबाने या मसूड़ों पर मंजन करने से पायरिया और बदबू जैसी समस्याएं दूर होती हैं।
  • दिन में कम से कम एक बार सरसों के तेल में नमक मिलाकर मसूड़ों की मालिश करने से वे स्वस्थ रहते हैं और Breath smells मुंह की बदबू भी खत्म होती है।
  • यदि आपके घर के आसपास अमरूद का पेड़ लगाया जाता है, तो आप नियमित रूप से इसकी पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं। अमरूद की पत्तियां चबाने से भी मुंह की बदबू धीरे-धीरे कम हो जाती है।

नीम के पत्तों को धोकर सुखा लें और इसे गमले में लगाकर जला दें। फिर इसकी राख में सेंधा नमक मिलाकर 1 सप्ताह तक रोजाना मालिश करें। जल्द ही फर्क दिखेगा।

FAQ : सांसों की बदबू अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

डॉक्टर को कब देखना चाहिए?

अगर आपको लगता है कि आपका माउथ सामान्य दिनों की तुलना में खराब हो जाता है और Bad Breath Halitosis घरेलू उपचार करने के बाद भी कोई फर्क नहीं पड़ता है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर को देखें।

क्या च्यूइंगम खाने से मुंह की बदबू दूर होती है?

यह इस दावे के साथ नहीं कहा जा सकता है कि च्युइंगम चबाने से मुंह की बदबू पूरी तरह से दूर हो जाती है, लेकिन यह सच है कि च्युइंग गम खाने से लार बनने में मदद मिलती है, इसलिए माउथ सूखता नहीं है और बदबू नहीं आती है। ।

यह कैसे पता चलेगा कि यह खराब गंध सामान्य नहीं है?

अगर आपने प्याज, लहसुन जैसे महक वाला भोजन खाया है, तो इसकी गंध आमतौर पर उसी दिन रहती है। अगर आपको कई दिनों से मुंह / सांसों की दुर्गंध महसूस हो रही है, तो इसे नजरअंदाज न करें।

क्या धूम्रपान और धूम्रपान करने से भी मुंह से दुर्गंध आती है?

हां, जो व्यक्ति तंबाकू और धूम्रपान का सेवन करता है, उसे इनमें से अधिक समस्याएं हो सकती हैं, लेकिन यह अनुमान काफी देर से लगता है। तंबाकू खाने से मुंह के कैंसर का भी खतरा रहता है। इसके अलावा धूम्रपान करने से मसूड़ों की बीमारी, माउथ की दुर्गंध, दांतों का पीलापन जैसी समस्याएं भी होती हैं।

क्या मुंह / सांस के कारण किसी अन्य व्यक्ति को संक्रमण का खतरा हो सकता है?

विशेषज्ञों के अनुसार, एक व्यक्ति के मुंह से आने वाली सांस की गंध से दूसरे व्यक्ति को संक्रमण नहीं हो सकता है, लेकिन यह समस्या संक्रमण की संभावना को मजबूत बनाती है, इसलिए इस मामले में लापरवाही नहीं बरती जा सकती है। । यदि सांस की गंध अत्यधिक है, तो एक डॉक्टर से परामर्श किया जाना चाहिए।

Share & Like This article on Social Platform : Facebook – Twiter – Youtube

loading...

One comment

  1. Shubham Rathore

    Nice information 👍👍

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.