Motherboard Parts and Section in hindi

0
15
अगर आप  चाहते है, की आप मदर बोर्ड को आसानी से रिपेयर कर सके तो आपको मदरबोर्ड के सर्किट की पूरी जानकारी होना जरुरी है।  तभी आप मदरबोर्ड में आने वाली समस्या को समझ पाएंगे।

MOTHERBOARD CIRCUIT DETAIL IN HINDI 

Motherboard 

(Asus, Gigabyte, Intel, MSI, Zebronics, AMD, Chinies, BioStar, Foxnnon)

आइये जानते है मदरबोर्ड में कौन से सर्किट होते है।  

पावर सप्लाई सर्किट (Voltage Regulate Modulation)

 इस सर्किट का काम सीपीयू तथा अन्य माइक्रो कंट्रोलर को काम करने के लिए सप्लाई देना होता है।  इसको VRM सेक्शन भी कहते है।
 पावर सेक्शन में मॉस्फेट और आईसी के द्वारा एसएमपीएस से मिलने वाली सप्लाई को बूस्ट और एम्प्लिफाई किया जाता है।
 यह सर्किट काम कैसे करता है।  आगे पढ़े..

क्लॉक जनरेटर सर्किट(Clock Generator Circuit)

यह सर्किट का काम सीपीयू को फसब देना होता है।  बिना क्लॉक के सीपीयू काम नहीं करता है।  इसके लिए एक आईसी और क्रिस्टल के द्वारा क्लॉक बनाई जाती है।  मदरबोर्ड में लगे सारे माइक्रो कंट्रोलर को अलग अलग क्लॉक इसी सर्किट के द्वारा ही मिलते है।  जैसे रैम कंट्रोलर, वीजीए कंट्रोलर, साउंड कंट्रोलर, नार्थ ब्रिज और साउथ ब्रिज इत्यादि।
क्यूंकि किसी भी माइक्रो कंट्रोलर को काम करने के लिए क्लॉक आवश्यक होता है।
क्लॉक क्या होता है।  क्लॉक सर्किट कैसे काम करता है।  आगे पढ़े….

नार्थ ब्रिज सिस्टम कंट्रोल यूनिट (MCH/ North Bridge)

सिस्टम कंट्रोल यूनिट या सर्किट एक चिप के अंदर बना होता है।  जिसे नार्थ ब्रिज कहते है।  यह सीपीयू के नजदीक मदरबोर्ड पर लगा होता है।  इसे ब्रिज क्यों कहा जाता है।  क्युकी यह सर्किट का काम मदरबोर्ड पर लगे दूसरे सेक्शन को सीपीयू के साथ जोड़ना होता है तथा सीपीयू से कैलकुलेट डेटा को इच तक पहुँचाना होता है।   यह अन्य सेक्शन को एड्रेस और डेटा बस के साथ जोड़ता है।
 नार्थ ब्रिज कैसे काम करता है आगे पढ़े…..

साउथ ब्रिज(ICH/Input Output Control Hub)

साउथ ब्रिज का काम इनपुट डिवाइस से प्राप्त इनफार्मेशन डेटा को सिस्टम कंट्रोल तक पहुचना और सिस्टम कंट्रोल से प्राप्त इनफार्मेशन को आउटपुट डिवाइस तक पहुचना होता है।  इसे इनपुट भी कहते है।

इस सर्किट के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए आगे पढ़े ….

इनपुट आउटपुट कंट्रोलर (Input Output Controller)

इस सर्किट का कीबोर्ड , माउस, एसएमपीएस RS232, IEEE, CLOCK GENERATOR, RTC, BIOS, ACPI MONITRING INTERFACE को कंट्रोल करना होता है यह यह सर्किट के अंदर बने होते है जोकि मदरबोर्ड के ऊपर लगा होता होता है , इसके ख़राब  होने पर पूरा मदरबोर्ड डेड हो सकता है।

इस सर्किट की पूरी जानकारी के लिए आगे पढ़े  …

बायोस (Bios/Cmos)

मदरबोर्ड को काम करने के लिए बायोस बहुत जरुरी होता है।  बिना बायोस के मदरबोर्ड में डिस्प्ले नहीं आ सकती है।  माइक्रो प्रोसेसर बायोस रोम में स्टोर प्रोग्राम को रीड करके ही पावर ओन सेल्फ टेस्ट को पूरा करता है।
बायोस एक रोम आईसी में कंपनी द्वारा स्टोर किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here