घर में कुत्ता क्यों पालना चाहिए

ज्योतिष के अनुसार कुत्ता पालने के फायदे

मित्रो आप ने देखा होगा कि बहुत से लोगो को अपने घर पालतू जानवर (Pet) पालने का शौक होता हैं। किसी को बिल्ली पालना पसंद होता हैं, कोई कुत्ता पालता हैं तो, कोई खरगोश पालता हैं तो कोई तोते को पालतू जानवर बनाना पसंद करता हैं.

लेकिन इन सभी में कुत्ते(Dog) को पालतू जानवर के रूप में पालने का चलन बहुत अधिक होता हैं. कुत्ता मानव प्रभुत्व में सबसे महत्वपूर्ण जानवरों में से एक है।

हिंदू पौराणिक कथाओं में, कुत्ते को यम का दूत कहा गया है। पालतू जानवर सबसे वफादर साथी होते हैं, कुत्ता बहुत संवेदनशील और बुद्धिमान जानवर माना जाता है क्योंकि कुत्ते वफादार होते हैं और घरों की रखवाली के लिए सबसे अच्छे विकल्पों में से एक नाता है।

हिंदू देवता भैरव महाराज का सेवक कुत्ता माना जाता है। कुत्ते को भोजन कराने से भैरव महाराज प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों को सभी प्रकार की परेशानियों से बचाते हैं।

यह माना जाता है कि कुत्ते को भोजन खिलाने और उसे खुश रखने से, यमदूत आपके आसपास नहीं भटक सकते हैं। कुत्ते को देखते ही बुरी ताकतों और आत्माओं का साया आपसे दूर भागने लगता है।

घर में कुत्ता क्यों पालना चाहिए – What are some benefits of having a dog?

कुत्ता एक वफादार प्राणी है और इसे घर पर रखने से हमें कई फायदे हो सकते हैं। वह सभी प्रकार के खतरों को पहले ही भाप लेता है और अपने स्वामी की रक्षा करता है।

घर में कुत्ता रखने से ग्रह दोषों को दूर करने में सहायक होता है।

1. काला कुत्ता शनि देव का वाहन है, इसलिए जिस जातक की कुंडली में शनि की दशा चल रही हो ज्योतिष उस जातक को काले कुत्ते की सेवा करने की सलाह देते है|

काले कुत्ते को घर में रखने और उसे भोजन कराने से, शनि बहुत प्रसन्न होते हैं और मनुष्य को उसके कष्टों से मुक्ति दिलाते हैं। कुत्ते को परेशानी में रखने के लिए कुंडली का अर्धशतक, ढैया या अन्य कोई दोष ठीक किया जाता है।

2. कुत्ता पालने से घर में लक्ष्मी का आगमन होता है और कुत्ता घर के रोगग्रस्त सदस्य के स्वस्थ्य होने पर उसकी मदद करता है।

3. राहु-केतु से संबंधित दोष जो किसी को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं, यदि आप इससे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो कुत्ते को रोटी तेल के साथ खिलाएं। कालसर्प योग से पीड़ित लोगों के लिए इस उपाय से राहु-केतु योग लाभान्वित होता है।

4. यदि कोई दंपत्ति, जो बच्चे के जन्म से वंचित हैं, घर में एक काला कुत्ता रखते हैं और उसकी सेवा करते हैं, तो उन्हें बच्चा मिल सकता है।

5. पितृ पक्ष में कुत्तों को मीठी रोटी खिलानी चाहिए| ज्योतिषी के अनुसार, कुत्ता केतु का प्रतीक है, इसलिए कुत्ते को रखने या कुत्ते की सेवा करने से केतु का बुरा प्रभाव समाप्त हो जाता है।

6. प्रतिदिन कुत्ते को रोटी खिलाने से सभी प्रकार के संकट दूर होते हैं और घर में कोई घटना नहीं होती है।

7. अगर खतरों से छुटकारा पाने के लिए  घर में एक कुत्ता रखें और उसकी सेवा करें

जैसा कि हमने ऊपर भी पढ़ा है कि कुत्ता भगवान भैरव का प्रिय है। इसलिए, काल भैरव जयंती पर रविवार और मंगलवार को कुत्तों की भी पूजा की जाती है।

यदि कुत्ता काला है, तो पूजा का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। कुछ भक्त उसे प्रसन्न करने के लिए दूध और मिठाई खिलाते हैं, बुधवार को सवा किलो जलेबी  को खिलाते हैं,  घर पर आने वाले सभी संकटों से मुक्ति पाएं|

वास्तु के अनुसार कुत्ता पालने के लाभ – Black dog according to vastu

1. जब भी आप कुत्ता पाले तो हमेशा काले रंग का कुत्ता ही पाले. हालाँकि दुसरे रंग का कुत्ता पालने से फायदों में कमी नहीं आती हैं. लेकिन ऐसा कहा जाता हैं कि काले कुत्ते को पालने से सबसे अधिक लाभ मिलता हैं.

इसका कारण ये हैं कि काला कुत्ता पालने से शनिदेव काफी प्रसन्न रहते हैं. जो लोग घर में काला कुत्ता पालते हैं उनपर शनि की कृपा दृष्टि हमेशा बनी रहती हैं.

2. कुत्ता पालने से घर में होने वाले लड़ाई झगड़े बहुत कम हो जाते हैं. साथ ही इस कुत्ते की वजह से आपके दुश्मन आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाते हैं.

3. कुत्ते को रोजाना खाना खिलाने से शनिदेव खुश रहते हैं. इसलिए यदि आप किस कारणवश घर में कुत्ता नहीं पाल सकते हैं तो सड़क पर रह रहे कुत्तो को खाना खिलाकर फायदा ले सकते हैं.

4. ज्योतिष शास्त्र में कुत्तो को रत्न माना गया हैं. ऐसा कहा जाता हैं कि कुत्ते को पालतू जानवर बनाने से कई तरह के गृह दोष दूर हो जाते हैं.

5. जिन लोगो की कुंडली में कोई दोष हैं या किसी के ऊपर साड़े सती मंडरा रही हैं तो उन्हें कुत्ता पालना चाहिए. ऐसा माना जाता हैं कि कुत्ता पालने से ये सारे दोष ख़त्म हो जाते हैं.

6. कुत्ते के घर में होने से नकारात्मक उर्जा अन्दर प्रवेश नहीं करती हैं. साथ ही कुत्ता घर की सकारात्मक उर्जा को बढ़ाने का काम करता हैं. इस तरह कुत्ते को पालने से घर में खुशियाँ और धन दोनों की ही अवाक होती हैं.

7. जो लोग राहू केतु के प्रभाव से पीड़ित हैं. उन्हें कुत्ते को घी की रोटी खिलाना चाहिए. इस उपाय से शनि की साढ़े साती और काल सर्प दोष भी दूर हो जाता हैं. इस उपाय का वर्णन हमारे शास्त्रों में भी किया गया हैं.

8. घर में कुत्ता पालने से बुरी शक्तियां जैसे भूत, प्रेत, आत्मा इत्यादि नहीं आते हैं. ये लोग कुत्ते से भी खाते हैं इसलिए उस घर से दूर ही रहना पसंद करते हैं.

आप हमसे  Facebook, +google, Instagram, twitter, Pinterest और पर भी जुड़ सकते है ताकि आपको नयी पोस्ट की जानकारी आसानी से मिल सके। comment करके आप अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.