पेडीक्योर और मैनीक्योर कैसे करे ? how to make pedicure and manicure at home

पेडीक्योर और मैनीक्योर कैसे करे ? – how to make pedicure and manicure at home

कैसे रखें पैरों का ख्याल? आइये जानते हैं  मेनिक्योर / पेडिक्योर –  Manicure and Pedicure in Hindi  हप्ते में सिर्फ एक बार हाथ पैरों की ख़ास देखभाल करें और उन्हें टैन फ्री रखें।

मैनीक्योर क्या है

मैनीक्योर एक ब्यूटी ट्रीटमेंट है, खासकर हाथों और नाखूनों के लिए। मेनिक्योर करवाने के बाद आपके हाथ बिल्कुल साफ़, मुलायम और खूबसूरत लगने लगते हैं। इस इलाज में शेपिंग, पॉलिशिंग, फाईलिंग और क्लिपिंग जैसी प्रक्रियाएं होती हैं। जिससे आपके हाथ और नाख़ून एकदम चमकदार और जवान लगने लगते हैं। मैनीक्योर पुरुष और महिला दोनों के लिए उपलब्ध होता है।

मेनिक्योर करने का तरीका

1. हेल्दी नेल्स : Healthy nails

नाखून अगर पीले और बेजान दिख रहें हैं, तो नेल ब्रश पर टूथपेस्ट लगाकर उन्हें साफ़ करें। पुराने लिप ब्रश को साफ़ करके नेल पॉलिश रिमूवर में डुबो लें। आपने फ्रेस नेल पेंट लगाया और नाखून के किनारो पर नेल पेंट लग जाए, तो इससे साफ़ कर लें।

2. नेल्स शेपिंग : Nails Shaping

पैरों को थोड़ी देर पानी में भिगोएं- इससे नाखून नरम पड़ जाएंगें और इन्हें काटने में आसानी होगी। टो नेल कटर से पहले नेल्स ट्रिम करें, फिर उन्हें फाइल करें। ऑरेंज स्टिक से क्यूटिकल्स को पुश करें।

3. ट्रेंडी नेल पेंट कलर्स : Trendy Nail Paint Colors

नेल पेंट लगाने से पहले एंटी स्टेनिंग पॉलिश लगा सकती हैं। इससे डार्क कलर की नेल पॉलिश आगे लंबे समय तक अपने नाखूनों पर लगा कर रखेंगी, तब भी नेल पॉलिश अपना कलर नाखूनों पर नहीं छोड़ेगी।

4. हैंड बाथ : Hand Bath

समुद्री नमक मिले गुनगुने पानी में डुबो कर रखें। 1-2 बूंदें लैवेंडर की डाल दें- टो हॉट को आराम मिलेगा।

5. स्कीन हाइड्रेशन : Foot Skin hydration

कुछ रात तक लगातार हेवी मॉइश्चराइजर पैरों पर लगाकर सोएं, मोटे सॉक्स ना पहनें। इसमें मॉइश्चराइजर पैरों की त्वचा पर जज्ब होने के बजाय सॉक्स में समा जाएगा।

पेडीक्योर क्या होता है –

पेडीक्योर पंजों, पैरों और नाखूनों के लिए एक ब्यूटी ट्रीटमेंट है। पेडीक्योर करवाने के बाद आपके पैर और पंजे बिल्कुल साफ़ और कोमल हो जाते हैं, साथ ही नाखूनों से गंदगी भी निकल जाती है। पेडीक्योर में एड़ियों पर भी स्क्रब किया जाता है, जिससे वहां की मृत कोशिकाएं साफ़ हो जाती हैं। पूरी प्रक्रिया खत्म होने के बाद आखिर में पैरों के नाखूनों पर नेल पॉलिश लगाई जाती है। पेडीक्योर भी पुरुष और महिला दोनों के लिए उपलब्ध होता है।

पेडिक्योर कैसे करे

1. फुट बाथ एंड क्रीम : Foot bath and cream

टैन को दूर करने के लिए नींबू का रस मिले गुनगुने पानी में पैरों को डुबो कर रखें। वैसे ही बर्फ और पुदीने के रस मिले पानी में डुबो कर रखें, टो गरमियॉँ में तलवों में होने वाली जलन दूर होगी। फुट क्रीम को सिर्फ एड़ियों में ही नहीं पैरों की उँगलियों के आसपास भी इस्तेमाल करें।

2. फुट पैक : Feet pack

खूब पके केले या पपीते में थोड़ा शहद मिला कर फुट स्क्रब के बाद लगाएं। २० मिनट के बाद धों दें, हाइड्रेशन क्रीम लगाएं।

 3. शू बाइट : Shoe byte

पैरों पर गरमी की वजह या नए फुटवेयर से उंगलियों पर फफोले हो जाएं, तो हेयर सीरम प्रभावित जगह पर लगाएं। इससे पैरों पर सैंडल की ऱगड़ नहीं लगेगी।

मैनीक्योर और पेडीक्योर करने से क्या फायदे होते है – Benefits of manicure and pedicure in Hindi

मैनीक्योर और पेडीक्योर के लाभ कुछ इस प्रकार हैं –

1. त्वचा के स्वास्थ के लिए मैनीक्योर और पेडीक्योर के फायदे –

हमारे हाथ पूरे दिन बाहर गंदगी से घिरे रहते हैं। इसी तरह हमरे पैर भी पूरा दिन धुल- मिट्टी के बीच चलते हैं, जिनपर मैल और त्वचा पर अन्य समस्याएं दिखने लगती हैं। मैनीक्योर और पेडीक्योर आपके हाथों और पैरों की त्वचा को एक्सफोलिएट करने में मदद करता है, इससे त्वचा कोमल और एकदम साफ़ दिखने लगती है। पेडीक्योर से मैल निकालने में मदद मिलती है और मैनीक्योर से त्वचा की मृत कोशिकाएं साफ़ हो जाती है। इस तरह आपके हाथ हमेशा स्वस्थ रहते हैं।

(और पढ़ें – ग्लोइंग स्किन टिप्स)

2. मैनीक्योर और पेडीक्योर से नाखूनों का कवक इन्फेक्शन साफ़ हो जाता है –

आमतौर पर हाथों और पैरों के नाखूनों में नमी ज़्यादा रहने से कवक संक्रमण फैलने लगता है। हालाँकि, इस तरह के कवक संक्रमण के लक्षण लगभग दो हफ्तों के आसपास दिखाई देते हैं, लेकिन आप मैनीक्योर और पेडीक्योर की मदद से इस संक्रमण के शुरूआती लक्षणों को रोक सकते हैं। हाथों और पैरों के नाखूनों को स्वस्थ रखने के लिए यह बहुत ही अच्छा इलाज माना जाता है।

3. मैनीक्योर और पेडीक्योर से रक्त का प्रवाह सुधारता है –

मैनीक्योर और पेडीक्योर में त्वचा पर मसाज के साथ एक्सफोलिएशन, मॉइस्चराइज़िंग और क्यूटिकल ट्रीटमेंट किया जाता है। मसाज करने से आपको बहुत आराम मिलता है, साथ ही रक्त का प्रवाह भी तेज़ी से होता है। इससे सर्दियों में होने वाले हाथ एवं पैरों में दर्द ठीक हो जाते हैं।

4. मैनीक्योर और पेडीक्योर से मानसिकता स्वस्थ रहती है –

हमेशा आरामदायक महसूस करने का सबसे अच्छा तरीका है, मेनिक्योर और पेडीक्योर इलाज। मैनीक्योर और पेडीक्योर आपके मस्तिष्क को तनाव और चिंताओं से आराम देता है एवं हाथों और पैरों को खूबसूरत भी रखता है।

Follow & Like This article on Social Platform : Facebook – Twiter – Youtube

One comment

  1. बहुत ही अच्छा आर्टिकल आप ने लिखा है। उम्मीद है आप आगे भी ऐसी ही जानकारी शेयर करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.