घरेलु नुस्खे

ग्रीन टी के फायदे और नुकसान, विधि और समय – Green Tea Benefits and Side Effects in Hindi

 ग्रीन टी के फायदे और नुकसान, Green tea peene ke fayde nuksan in hindi
 Green tea peene ke fayde nuksan in hindi
ग्रीन टी के फायदे और नुकसान, बनाने की विधि और पीने का सही समय, green tea peene ke fayde nuksan in hindi: ग्रीन टी हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत फायदेमंद है. और ग्रीन टी आजकल बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रही है. ग्रीन टी को कैमिला साइनेंसिस की पत्तियों को सुखाकर बनाया जाता है. तो आइए आज हम जानते हैं कि ग्रीन टी (हरी चाय) के क्या-क्या फायदे हैं और इसके क्या-क्या नुकसान हैं. इसे कितनी मात्रा में पीना चाहिए, green tea peene ke fayde nuksan in hindi, इत्यादि. ग्रीन टी (हरी चाय) के फायदे

ग्रीन टी के फायदे और नुकसान – Green Tea Benefits and Side Effects in Hindi

 ग्रीन टी के फायदे और नुकसान,Green tea peene ke fayde nuksan in hindi

Green tea peene ke fayde nuksan in hindi

हरी चाय पीने का सही समय

  1. हरी चाय सुबह-सुबह खाली पेट नहीं पीना चाहिए.
  2. हरी चाय के साथ दवा न लें, दवा पानी के साथ हीं लें.
  3. हरी चाय हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है.
  4. हरी चाय कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकती है. ग्रीन टी नियमित पीने से मूत्राशय के कैंसर की आशंका नहीं के बराबर रह जाती है.
  5. हरी चाय ब्लडप्रेशर को नियन्त्रण में रखता है.
  6. इसे पीने से दिल का दौरा पड़ने की सम्भावना कम हो जाती है.
  7. हार्ड ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए, इससे पेट की समस्याएँ हो सकती है, नींद आने में समस्या हो सकती है, चक्‍कर आने जैसी समस्‍या पैदा हो सकती है.

ग्रीन टी का लाभ वज़न कम करने के लिए – Green Tea for weight loss in Hindi

 ग्रीन टी के फायदे और नुकसान, Green tea peene ke fayde nuksan in hindi

Green tea peene ke fayde nuksan in hindi

  • यह फालतू कैलोरी बर्न करने में मदद करती है.
  • अगर आप हर दिन दो-तीन कप से ज्‍यादा ग्रीन टी पियेंगे तो यह आपको नुकसान पहुंचाएगी.
  • दांत के रोग फैलाने वाले बैक्टीरिया को ग्रीन टी खत्म कर देती है.
  • यह मुंह में बदबू पैदा करने वाली बैक्टीरिया के विकास को कम कर देती है.
  • हमेशा ताजी ग्रीन टी पियें. Weight loss tips in hindi
  • हरी चाय ब्‍लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता है.
  • हरी चाय में पाया जानेवाला अमीनो एसिड चिंता दूर करने में मदद करता है.
  • हरी चाय में हाई फ्लोराइड नाम का chemical पाया जाता है.
  • यह हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है. यह बोन डेंसिटी बनाए रखने में मदद करता है.
  • हरी चाय फ़ूड पोइसोनिंग से बचाता है.
  • हरी चाय एंटी एजिंग दवा का काम करता है.
कई विशेषज्ञों ने यह मन है, की ग्रीन टी के अविश्वसनीय फायदे हैं। इस चाय के बारे में कुछ दिलचस्प पोषण संबंधी जानकारी यहां दी गई है:
हरी चाय पीने की मात्राहरी चाय एक हाइड्रेटिंग कैलोरी-फ्री पेय है। प्रति दिन आठ कप पीने की सलाह दी जाती है।
एक कप में 99.5% पानीइस चाय के एक कप में 99.5% पानी होता है।

हरी चाय पानी के बाद हाइड्रेशन के लिए एक आदर्श पेय विकल्प के रूप में दूसरा माना जाता है।

हरी चाय को बनाने में मुख्य घटक के रूप में पानी का इस्तेमाल होता है। इसलिए ध्यान रखे ; बेहतर पानी, तो बेहतर चाय।
मुख्य घटकग्रीन चाय एंटीऑक्सिडेंट्स और एलिकॉइड का एक असाधारण अच्छा स्रोत है।
ऐसा माना जाता है कि हरी चाय में बिना किसी एडिटिव्स या स्वीटनर्स के कैलोरी नहीं होती हैं। लेकिन इसके अलावा सभी चाय और कॉफी में कुछ कैलोरी जरूर होती हैं – लेकिन बहुत कम।
विटामिनग्रीन टी में ए, डी, ई, सी, बी, बी 5, एच और के जैसे विभिन्न विटामिन होते हैं।
यह मैंगनीज़ का एक समृद्ध स्रोत है और इसमें जस्ता, क्रोमियम और सेलेनियम के रूप में कई अन्य फायदेमंद खनिज हैं।
हरी चाय के एपिगॉलॉटेक्वीन -3-गैलेट (ईजीसीजी) में सबसे महत्वपूर्ण सक्रिय घटक कई बार विटामिन सी या विटामिन ई की तुलना में अधिक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है।
कैफीन की मात्राइसमें कैफीन है, लेकिन कैफीन के अन्य स्रोतों की तुलना में हरी चाय की कैफीन मात्रा बहुत कम होती है।

क्योंकि Green Tea खुली और टि बैग के रूप में मिलती है। इसलिए ग्रीन टी बनाने के दो तरीके है। यहाँ आपको दोनों विधि बताई जा रही है।

खुली हरी पत्ती ग्रीन टी बनाने की विधि

  1. हरी चाय की पत्तियां – आधा छोटा चम्मच
  2. इलायची पाउडर – एक चुटकी (स्वाद के लिए)
  3. शहद या शक्कर – स्वादानुसार (मिठास के लिए)

हरी चाय कैसे बनाये – how to make green tea at home

  • एक बर्तन में २ कप पानी डालकर चूल्हे पर रखे। गैस को ऑन कर दे।
  • जब पानी उबलने लगे तब उसमे आधा चम्मच हरी चाय की पत्तिया, इलायची, मिठास के लिए शहद या चीनी डाल कर।
  • लगभग २ मिनट उबाले। जब एक कप पानी बचे तब उसे छन्नी से छानकर गर्म गर्म पिए।

ग्रीन टी बैग से हरी चाय कैसे बनाये

  • यदि आप ग्रीन टी बैग इस्तेमाल कर रहे हैं।
  • तो एक कप गरम पानी में ग्रीन टी बैग को डालकर इसमें इलायची पाउडर डालकर अच्छे से मिक्स कीजिए।
  • आप चाहें तो इसमें चीनी या शहद स्वादानुसार डालकर मिला सकते हैं।

हरी चाय पीने का सही समय क्या है – green tea pine ka tarika

अच्छे परिणामों के लिए खाना खाने के आधा घंटा पहले या खाना खाने के 1-2 घंटे बाद हरी चाय पीयें।

ग्रीन टी पीने के फायदे – lipton green tea ke fayde

सेहत कि लिहाज से ग्रीन टी को बहुत फायदेमंद माना जाता है, लेकिन अगर इसे सही तरीके से पिया जाये तो। नहीं तो यह हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए नुकसानदेह हो सकती है। दरअसल Green Tea को वजन घटाने में मददगार माना जाता है, इसके कारण ही लोग इस गलतफहमी का शिकार हो जाते हैं कि अधिक Green Tea पीने का अर्थ है जल्द वजन कम हो जायेगा और वे अधिक मात्रा में Green Tea लेते हैं। लेकिन यह अवधारणा पूरी तरह से सही नहीं है। Green Tea सेहत के लिए तभी फायदेमंद होगी जब आप इसे सही तरीके से लेंगे।

  1. हरी चाय पीने से माउथ कैंसर और पेट का कैंसर होने से बचाता है
  2. Green Tea में एंटी एजिंग खूबी होती है जिसकी मदद से आप जल्दी बूढ़े नहीं दिखाई देते हैं और आपकी त्वचा की रंगत बरकरार रहती है
  3. इंसुलिन के इंजेक्शन से होने वाले साइड इफेक्ट को ग्रीन टी कम कर देता है जो कि हाई ब्लड लेवल वाले लोगों के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है
  4. रात को सोने से पहले आप एक कप ग्रीन चाय पी लीजिए इससे आपके शरीर में चर्बी की मात्रा नहीं पड़ेगी और आपके शरीर बिल्कुल शेप में आ जाएगा
  5. आप दिन में 3 बार हरी चाय पिया करें इससे आपका शरीर हमेशा एक्टिव रहेगा और आपको थकान और कमजोरी की शिकायत बिल्कुल भी नहीं है
  6. दांतों के मसूड़ों को मजबूत करता है और दांतों से खून निकलना या मसूड़ों में सूजन होना या उनसे खून निकलने वाली शिकायतों को दूर कर देता है

ग्रीन टी के नुकसान – Green Tea Side Effects in Hindi

  • बाकी चाय की ही तरह अगर आप हरी चाय का ज्यादा सेवन करते हैं तो कैफीन आपकी हार्टबीट अनियमित कर देती है।
  • इससे आपको नर्वसनेस का अनुभव होता है और आप छोटी-छोटी सी बातों पर चिढ़ने लगते हैं।
  • ज्यादा हरी चाय पीना आपके पाचन तंत्र के लिए भी नुकसानदेह साबित हो सकता है।
  • ज्यादा कैफीन आपके पाचन रस के बैलेंस को बिगाड़ देता है जिससे आपका पेट भी ख़राब हो सकता है। ग्रीन टी में मौजूद टैनिन आपके पेट को खराब कर सकता है क्योंकि ग्रीन टी पीने से पेट में एसिड अधिक बनने लगता है।
  • जिन लोगों को पेट की समस्या रहती है खासतौर पर एसिडिटी होती है उन्हें ग्रीन टी पीने से बचना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को दिन में दो बार से ज्यादा ग्रीन टी पीने के लिए मना किया जाता है। इसके पीछे भी कारण कैफीन ही है।
  • कैफीन का सेवन मां और बच्चे दोनों के लिए खतरनाक माना जाता है।
  • अगर आपको ऑस्टियोपोरोसिस की शिकायत है या फिर हड्डियों से जुड़ी कोई भी बीमारी है तो भी ग्रीन टी आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है। green coffee benefits in hindi, ग्रीन टी के फायदे और नुकसान

lipton green tea price online

Rs. 207
Rs. 230
in stock
5 new from Rs. 180
Amazon.in
Free shipping
Rs. 383
Rs. 450
in stock
7 new from Rs. 383
Amazon.in
Free shipping
Rs. 157
Rs. 174
in stock
9 new from Rs. 155
Amazon.in
Free shipping
Rs. 315
Rs. 450
in stock
7 new from Rs. 315
Amazon.in
Free shipping
Rs. 220
Rs. 225
in stock
4 new from Rs. 199
Amazon.in
Rs. 203
Rs. 225
in stock
2 new from Rs. 203
Amazon.in
Rs. 383
Rs. 470
in stock
3 new from Rs. 383
Amazon.in
Free shipping
Last updated on December 5, 2018 2:28 pm

4 Comments

Leave a Comment