Notice: Trying to access array offset on value of type bool in /var/www/inhindi.org/public_html/wp-content/themes/sahifa/framework/functions/theme-functions.php on line 626
पपीते को गर्भावस्था के समय में खाना नुकसान देय या फायदेमंद।

Notice: Trying to get property 'post_excerpt' of non-object in /var/www/inhindi.org/public_html/wp-content/themes/sahifa/framework/parts/post-head.php on line 73

पपीते को गर्भावस्था के समय में खाना नुकसान देय या फायदेमंद।

Eat papaya during pregnancy harmful or beneficial : गर्भावस्था किसी भी स्त्री के जीवन का एक संवेदनशील हिस्सा होता है। इस दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं, जिसमे कुछ गर्भस्थ शिशु के लिए सही या गलत हो सकती हैं। यही वजह है कि गर्भावस्था के समय खान-पान और अन्य चीजों को लेकर सावधानी बरती जाती है और गर्भवती महिला को कुछ ऐसी चीजों के सेवन न करने की सलाह दी जाती है। पपीता भी उन्हीं चीजों में एक है, लेकिन इसे लेकर विशेषज्ञों एवं लोगों की अलग-अलग राय है।

ज्यादातर : पपीते को गर्भावस्था के समय में खाना, गर्भस्थ शिशु के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। क्योंकि पपीता गर्म प्रकृति का होता है। इसका प्रयोग पेट के रोगों या कब्ज होने पर पेट साफ करने के लिए भी किया जाता है। इसी के कारण यह माना जाता है, कि गर्म तासीर होने के कारण यह गर्भस्थ शिशु को नुकसान पहुंचा सकता है। यह भी माना जाता है, कि पपीते का रोजाना सेवन करने से गर्भपात भी हो सकता है।
इस बारे में विशेषज्ञों का कहना है, गर्भावस्था में पपीता खाया जा सकता है, लेकिन वह पूरी तरह से पका हुआ होना चाहिए और इसका प्रयोग कम मात्रा में किया जाए। पूरी तरह से पका हुआ पपीता विटामिन-सी और विटामिन-ई का भरपूर मात्रा में होता है और इसमें फाइबर के साथ ही फॉलिक एसिड भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो फायदेमंद है।
दूध और शहद के साथ पपीते को मिक्स कर बनाया गया पेय, काफी पौष्ट‍िक होता है, जो गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए बहुत स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है।

  • बिस्तर में ऐसा कमाल की आपकी पार्टनर बोल उठेगी, अब बस भी करो ना !

पपीता खाने से नुक्सान कब होता है –

पपीता अगर पूरी तरह से पका हुआ नहीं है, जरा भी कच्चा है, तो यह बहुत हानिकारक होता है। आधा पका हुआ पपीता बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होता। एक शोध के अनुसार, कच्चे या आधे पके हुए पपीते में लेटेक्स की अधिकता होती है। यह लेटेक्स गर्भाशय के संकुचन के लिए जिम्मेदार हो सकता है। साथ ही पपीते के छिलके और बीज भी गर्भावस्था में बेहद हानिकारक हो सकते हैं।

इन सभी के बावजूद सामान्यत:

पपीते को लेकर यह मान्यता है, कि गर्भावस्था में इसका सेवन पूर्ण रूप से हानिकारक होता है। इसका सेवन गर्भपात ही नहीं बल्कि मृत शिशु के जन्म के लिए भी जिम्मेदार हो सकता है। पपीता शरीर में गर्मी पैदा करता है, जो गर्भस्थ शिशु के लिए अनुकूल नहीं होता।
नोट : यह आलेख गर्भावस्था में पपीते के सेवन को लेकर अलग-अलग मतों पर आधारित है, लेकिन इस समय पपीते का सेवन करने से पूर्व अपने डॉक्टर से अवश्य संपर्क करें।

  • जानिए राशि अनुसार कैसा होता है पुरुषों का ‘सेक्स व्यवहार’

गर्भावस्था में खानपान #गर्भावस्था में पेट में दर्द #गर्भावस्था में सावधानियां #गर्भवती महिला का भोजन #गर्भावस्था में उल्टी #गर्भवती महिला को क्या खाना चाहिए #गर्भावस्था के दौरान पौष्टिक भोजन #गर्भावस्था में किशमिश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.