Home / घरेलु नुस्खे / गाय के घी के फायदे, गुण और नुकसान, जानिये स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में

गाय के घी के फायदे, गुण और नुकसान, जानिये स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में

cow ghee benefits in Hindi– अध्यात्म और शारीरिक दोनों ही रूप से गाय के घी का बहुत ही महत्व है। शास्त्रों में और आयुर्वेद में इसको अमृत सामान माना गया है। इसको देवी देवता को खुश करने के लिए शुद्ध घृत की ज्योति एवं हवन में उपयोग किया जाता है। इसके सेवन से कमजोर व्यक्ति के कई रोग दूर होकर शरीर बलवान और शक्तिशाली बनता है। इससे त्वचा,सिर,पेट के रोगो में लाभ होता है। इसकी कुछ बुँदे नाक में डालने से, एनिमा लेने से पित्त और वात रोग का इलाज किया जाता है। घृत के सेवन के अनगिनत फायदे है। वही कुछ गाय के घी के नुकसान भी होते जिन्हे ध्यान में रखकर इसका उपभोग किया जाना चाहिए। यहाँ

जानिये गाय के घी के फायदे, गुण और नुकसान, कुछ स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में…

10 निकला हुआ पेट अंदर करने के तरीके नुस्खे

स्त्री यौन रोग (श्वेत प्रदर) में – Benefits of cow ghee in leucorrhoea in hindi

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों मेंघी, छिलका सहित पिसा हुआ काला चना और पिसी शक्कर (बूरा) तीनों को समान मात्रा में मिलाकर लड्डू बाँध लें। प्रातः खाली पेट एक लड्डू खूब चबा-चबाकर खाते हुए एक गिलास मीठा गुनगुना दूध घूँट-घूँट करके पीने से स्त्रियों के प्रदर रोग में आराम होता है, पुरुषों का शरीर मोटा ताजा यानी सुडौल और बलवान बनता है।

फफोले का उपचार – Treatment of blisters with cow ghee in hindi

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों मेंफफोलो पर गाय का देसी घी लगाने से आराम मिलता है।

बलगम से छुटकारा  – Benefits of cow ghee to get rid of mucus

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों में
Image : Wikihow
  • गाय के घी के फायदे- घी  की झाती पर मालिस करने से बच्चो के बलगम को बहार निकालने मे सहायक होता है।

आंवला जूस(करौंदे का जूस) भी वजन घटाने में बहुत फायदेमंद है।

गाय के घृत से सांप काटने पर उपचार – Treatment of snake bite with cow ghee in hindi

सांप का विष- सांप के काटने पर 100 -150 ग्राम घी पिलायें उपर से जितना गुनगुना पानी पिला सके पिलायें जिससे उलटी और दस्त तो लगेंगे ही लेकिन सांप का विष कम हो जायेगा।

माइग्रेन दर्द का इलाज गाय के घृत से – Benefits of Using Ghee As Nasal Drops in hindi

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों में

  • नाक में घी डालने के फायदे- दो बूंद नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन दर्द ठीक होता है।

पुराना सिर दर्द में गाय के घी के फायदे – Home remedies for migraine headache in hindi

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों में

  • पुराना सिर दर्द – सिर दर्द होने पर शरीर में गर्मी लगती हो, तो घृत की पैरों के तलवे पर मालिश करे, सर दर्द ठीक हो जायेगा।

गाय के घी के सेवन कमजोरी का इलाज – gaay ke ghee se kamjori ka ilaaj

Cow ghee nasal drops benefits in Hindi, Desi ghee for bones in Hindi, Ghee for sex in Hindi, Cow ghee for weight gain in Hindi, गाय के घी के औषधीय गुण करते हैं घाव का इलाज, घी का उपयोग घरेलू उपचारों में

  • कमजोरी – यह स्मरण रहे कि घृत के सेवन से कॉलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता है। वजन भी नही बढ़ता, बल्कि वजन को संतुलित करता है । यानी के कमजोर व्यक्ति का वजन बढ़ता है, मोटे व्यक्ति का मोटापा (वजन) कम होता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए – To increase the eyesight

  • आंखों की समस्या – एक चम्मच शुद्ध घृत में एक चम्मच बूरा और 1/4 चम्मच पिसी काली मिर्च इन तीनों को मिलाकर सुबह खाली पेट और रात को सोते समय चाट कर ऊपर से गर्म मीठा दूध पीने से आँखों की ज्योति बढ़ती है।

चर्म रोग का इलाज – Treatment of skin diseases

चर्म रोग का इलाज - Treatment of skin diseases

  • चर्म रोग का घरेलू इलाज – गाय के घी को ठन्डे जल में फेंट ले और फिर इसको पानी से अलग कर ले यह प्रक्रिया लगभग सौ बार करे और इसमें थोड़ा सा कपूर डालकर मिला दें। इस विधि द्वारा प्राप्त घी एक असर कारक औषधि में परिवर्तित हो जाता है जिसे त्वचा सम्बन्धी हर चर्म रोगों में चमत्कारिक कि तरह से इस्तेमाल कर सकते है। यह सौराइशिस के लिए भी कारगर है।

उच्च कोलेस्ट्रॉल – high cholesterol

उच्च कोलेस्ट्रॉल के रोगियों को गाय का घी ही खाना चाहिए। यह एक बहुत अच्छा टॉनिक भी है। आप घी की कुछ बूँदें दिन में तीन बार, नाक में प्रयोग करें।

English : Cow’s ghee is very important in both spirituality and physiologically.
In the scriptures and in Ayurveda, it has been considered as a nectar baggage.

  • It is used in the light of the pure glue and in the havan to please Goddess goddess.
    By removing many diseases of a weak person from the cow’s ghee, the body becomes strong and powerful.
  • It benefits in skin, head and stomach diseases.
  • By putting some of the cow’s ghee in a small nose, taking an enema treats bile and vata disease.
  • There are countless advantages of taking cucumber.
  • There are also some losses of cow’s ghee which should be consumed by keeping it in mind.
  • Here’s the advantages, qualities and disadvantages of cow’s ghee, about some health benefits …

 

About Pooja

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *