Beetroot in Hindi

चुकंदर के फायदे, उपयोग और नुकसान – Beetroot (Chukandar) in Hindi

अपने गहरे लाल रंग के लिए लोकप्रिय चुकंदर स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने के लिए या सुंदरता बनाए रखने के लिए, चुकंदर के फायदे कई हैं। यह आमतौर पर चुकंदर के गुणों के कारण सलाद या रस के रूप में उपयोग किया जाता है। अगर आप चुकंदर खाने के फायदों के बारे में नहीं जानते हैं, तो इस लेख को पढ़कर आप उन सभी को समझ जाएंगे। इस लेख में हम स्वास्थ्य के लिए चुकंदर के फायदों के बारे में बताएंगे। इस लेख में, चुकंदर के फायदे न केवल स्वास्थ्य के लिए, बल्कि त्वचा और बालों के लिए भी बताए गए हैं। उसी समय, हम Beetroot के नुकसान से बचने के लिए इसका उपयोग करने की सही विधि बताएंगे।

चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान जानने से पहले यह समझ लें कि चुकंदर क्या है।

चुकंदर क्या है? – What is Beetroot in Hindi

यह जीनस बीटा वल्गेरिस की किस्मों में से एक है। यह पौधे का जड़ वाला हिस्सा होता है। इसका सेवन अक्सर सलाद और जूस के रूप में किया जाता है। चुकंदर खाने के लाभ उठाने के लिए भोजन के साथ सलाद के तौर पर सेवन करने के अलावा चुकंदर का प्रयोग औषधि और फूड कलर के रूप में भी किया जाता है। इसका रंग इतना गहरा होता है कि सेवन करने के बाद जीभ भी लाल रंग की नजर आती है। विभिन्न भाषाओं में इसके अलग-अलग नाम हैं, जैसे अंग्रेजी में बीटरूट, स्पेनिश में ला रेमोलाचा (la remolacha) और चीनी भाषा में हांग कै टू (Hong cai tou)।

चुकंदर के प्रकार – Types of Beetroot in Hindi

चुकंदर खाने के फायदे

– चुकंदर में विटामिन-बी, विटामिन-सी, फॉस्फोरस, कैल्सियम, प्रोटीन और ऐंटिऑक्सीडेंट्स होते हैं। जो शरीर में ब्लड प्यूरिफिकेशन और ऑक्सीजन बढ़ाने का काम करते हैं।

– फॉस्फोरस बालों की ग्रोथ के लिए बहुत अच्छा माना जाता है और चुकंदर इसका नैचरल सोर्स है, जो बालों को बढ़ने में मददगार है।

– केवल बाल ही नहीं चुकंदर हमारी त्वचा की रंगत को भी निखारता है। चुकंदर से सिर के बंद रोमछिद्र खुल जाते हैं, जिससे बाल मजबूत होते है और त्वचा पर लगाने से डेड सेल साफ होती हैं।

– चुकंदर में आयरन, सोडियम, पोटेशियम, फॉस्फोरस पर्याप्त मात्रा में होते हैं, जिस कारण यह शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। सर्दियों में हर रोज चुकंदर का सलाद खाना चाहिए या जूस पीना चाहिए।

– चुकंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है। क्योंकि इसके फाइबर्स पेट को साफ रखने में मददगार होते हैं। यह शर्करा का प्राकृतिक स्रोत है।

-चुकंदर हाई बीपी वाले मरीजों के लिए खासतौर पर लाभदायक रहता है। चुकंदर और गाजर का जूस बनाकर पीने से शरीर को नैचरल शुगर मिलती है और बीपी भी कंट्रोल में रहता है।

-अगर आपको कोई काम करते हुए बहुत जल्दी थकान हो जाती है तो ऐसा शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन ना मिलने और ब्लड की कमी के कारण होता है। लेकिन अगर आप चुकंदर का जूस या सलाद खाएंगे तो आपको बहुत फायदा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.