Hindi Facts

ब्रा से जुड़े 10 महत्‍वपूर्ण व रोचक तथ्‍य

महिलाएं ब्रा क्यों पहनती है? ब्रा पहनने के कारण
एक ब्रा ब्लाउज का छोटा स्वरुप है। जिसे एक महिला के स्तनों को समर्थन देने के लिए डिज़ाइन किया गया है। स्विमिंग्स, कैमिसल्स और बैकलेस कपड़े में स्तन को सहारा देता है। ब्रा पहनने से ढीले लटके स्तन सुडोल नज़र आते है। ब्रा कई भागों से बना जटिल वस्त्र हैं

ब्रा क्या है – brassiere meaning in hindi

ब्रेजियर (brassiere ; ‘ब्रा’ नाम से प्रसिद्ध) बालिकाओं एवं स्त्रियों का वस्त्र है जो स्तनों को ढ़कने, उन्हें अवलम्बन देने एवं उभारने का काम करता है। इसे हिन्दी में चोली और बांग्ला में वक्षबंधनी कहते हैं।

ब्रा का इतिहास – Bra history in hindiमहिलाएं ब्रा क्यों पहनती है? ब्रा पहनने के कारण

ब्रा का इतिहास महिलाओं की स्थिति के सामाजिक इतिहास के साथ अन्तर्निहित है, जिसमें फैशन के विकास और महिला शरीर के विचारों को बदलना शामिल है। महिलाओं ने विभिन्न प्रकार के वस्त्रों और उपकरणों का उपयोग किया है जो स्तनों के रूप को कवर करने, नियंत्रित करने, प्रदर्शित करने या संशोधित करने के लिए उपयोग किया जाता है।

महिला एथलीटों पर ब्रा या बिकनी

14 वीं शताब्दी ईसा पूर्व में मानोनो सभ्यता युग के दौरान कुछ महिला एथलीटों पर ब्रा या बिकनी जैसी कपड़ों को चित्रित किया गया है। चौदहवीं शताब्दी से, पश्चिमी दुनिया में अमीर महिलाये अंडरगार्मेंट के रूप में कोर्सेट का इस्तेमाल करती थी, जो स्तनों को ऊपर की और थामे रखता था। 19वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में, महिलाओं ने विभिन्न विकल्पों के साथ प्रयोग किया जैसे कि कोर्सेट को कमर के लिए।

स्तन को सपोर्ट देने के लिए ब्रो

19वीं सदी के उत्तरार्ध में, स्तन को सपोर्ट देने के लिए ब्रो को कोर्सेट की जगह सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने लगा।
20 वीं शताब्दी तक, समकालीन ब्रा जैसी अधिक बारीकी से वस्त्र उभरा, हालांकि बड़े पैमाने पर व्यावसायिक उत्पादन 1930 के दशक तक नहीं हुआ। तब से bra को कोर्सेटों की जगह मिली है। (द्वितीय विश्व युद्ध की धातु की कमी ने कोर्सेट के अंत को प्रोत्साहित किया)। युद्ध समाप्त होने तक, यूरोप और उत्तरी अमेरिका में ज्यादातर फैशन के प्रति सजग महिलाएं ब्रा पहन रही थीं। वहां से ब्रा, एशिया, अफ्रीका और लैटिन अमेरिका में महिलाओं द्वारा अपनाई गई, 20 वीं शताब्दी के दौरान, ब्रा के फैशन पहलुओं को अधिक जोर दिया गया है। ब्रा का निर्माण बड़े बहुराष्ट्रीय निगमों का प्रभुत्व वाला एक बहु-अरब डॉलर का उद्योग है।

9 Interesting Facts About Bra in hindi

 1. जानकारों का कहना है कि अगर महिलाएँ सही आकार की ब्रा का चयन करें तो उन्हें कई तरह की परेशानियों से निजात मिल सकती है.

2. लंदन के एक अस्पताल का कहना है कि अस्पतालों में ‘ब्रा फिटिंग क्लीनिक’ खोल दिए जाएँ तो उन हज़ारों महिलाओं को फ़ायदा होगा जिन्हें अपने स्तन का आकार कम करने के लिए सर्जरी करानी पड़ती है.

3. ये अस्पताल ब्रा चयन का सही तरीक़ा भी बताता है. इसका कहना है कि अब तक जितनी महिलाएँ अस्पताल के इस विभाग में आई हैं, उनमें से कोई भी सही आकार का ब्रा नहीं पहन रही थी.

4. डॉक्टरों के मुताबिक अगर ब्रा सही आकार की ना हों तो गले, पीठ और कंधों में दर्द हो सकता है और ये इतना बढ़ सकता है कि सर्जरी करानी पड़ जाए.

5. एक वरिष्ठ स्तन सर्जन का कहना है कि आम तौर पर महिलाएँ ज़रूरत से बड़े आकार की ब्रा पहनती हैं.

6. ब्रिटेन में अक़्सर बड़े आकार के स्तनों से परेशान महिलाएँ सर्जरी कराना चाहती हैं और कुछ इलाक़ों में तो यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना का हिस्सा है जिसके तहत पैसे न के बराबर लगते हैं.

7. इसके बावजूद महिलाएँ ख़ुद हज़ारों पाउंड ख़र्च करके भी स्तन ऑपरेशन करवाती हैं.

8. एक अनुमान के मुताबिक ब्रिटेन में हर साल लगभग दस हज़ार महिलाएँ स्तन का आकार छोटा करने के लिए सर्जरी कराती हैं.

9. हालाँकि लंदन के रॉयल फ़्री अस्पताल के मनोचिकित्सक डॉक्टर एलेक्स क्लार्क का कहना है कि ये पैसे की बर्बादी है और ज़रूरत है तो सिर्फ़ सही आकार की चोली पहनने की.

read moe—

Leave a Comment