बढती उम्र में मांसपेशियों का रखें ख्याल Keep muscle propels age care

763

बढती उम्र में मांसपेशियों का रखें ख्याल Keep muscle propels age care

बढ़ते उम्र के साथ शरीर की मांसपेशियां ढीली और कमजोर पड़ने लगती है। हालांकि उम्र के साथ मांसपेशियों का कमजोर होने एक सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन इसके नकारात्मक प्रभावों से सावधान रहना जरूरी है।
मसल, लिगामेंट्स एंड टेंडन्स जरनल में छपे एक अध्ययन के मुताबिक, 40 की उम्र के बाद व्यक्ति की मांसपेशियां हर दशक 8 प्रतिशत तक क्षीण होती जाती है।
70 साल की उम्र के बाद यह यात्रा दोगुनी हो जाती है। इस वजह अन्य शारीरिक समस्याएं भी होने लगती है। ऐसे में जीवनशैली में कुछ खास बदलाव करके आप मांसपेशियों को स्वथ्य रख सकती है मांसपेशियों को सुरक्षित रखने के लिए सही पोषण और संतुलित आहार एक बेहतरीन तरीका है। इसके लिए जरूरी है पोषक तत्वों से भरपूर आहार का सेवन।
मांसपेहसियों को सुगठित करने के लिए प्रोटीन युक्त आहार लेना जरूरी है। साथ ही विटामिन D की सही मात्रा लेना भी बेहद जरूरी है। बीटा बीटा-हाईड्रॉक्सी, बीटा-मिथाइलबिटारेट से युक्त आहार भी मांसपेशियों को सुरक्षित रखते हैं। यह पदार्थ सिट्रस फल जैसे कि नींबू, संतरा, एवोकाडो और फूलगोभी में पाया जाता है।
इसके आलावा अध्ययन में पाया गया है कि… जो लोग नियमित ब्यायाम नही करते, उनमे डिप्रेशन और बीमार होने कि संभावना ज्यादा होती है यानि नियमित रूप से व्यायाम और पोषक आहार के जरिए मांसपेशियों को कमजोर होने और टूटने से बचाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.