आयुर्वेदिक पौधे

अश्वगंधा के गुण, फायदे और नुक्सान – Ashwagandha benefits and side effects in hindi

अश्वगंधा(असगंध) (ashwagandha Benefits in hindi) एक बहुत ही महत्वपूर्ण जड़ी-बूटी है, जो हमारे आयुर्वेदिक चिकित्सा में सदियों से इस्तेमाल होती आ रही है| ये शुष्क क्षेत्रो़ में असगंध के जंगलो या कृषिजन्य पौधे 4000 फुट की ऊंचाई तक पाए जाते है| इसके गुणों का वर्णन आयुर्वेद चिकित्सा और चीनी चिकित्सा विस्तार रूप से किया गया है, गुण के माध्यम से कृषिजन्य असगंध पौधे जंगली पौधे से उत्तम होते है| असली अश्वगंधा पौधे का रस की गंध घोड़े की मूत्र जैसी होते है, इसका अश्वगंधा नाम इसलिए पड़ा क्युकी इसका गंध घोड़े के पसीने के जैसा होता है| अश्वगंधा के गुण, फायदे और नुक्सान

Contents

ताक़त और शरीर को पुष्ट करने वाला अश्वगंधा – ashwagandha Benefits in hindi

असली अश्वगंधा की पहचान कैसे करे

  • अश्वगंधा की पहचान : इसका सर्वप्रथम इस्तेमाल भारत देश में हुआ असगंध का पौधा झाड़ीदार होता है,
  • ये 50 से 75 सेमी लम्बा होता है,ये 35 से 90 डिग्री सेल्सियस के तापमान में भी जीवित रहता है,
  • औषधि के रूप में इसकी जड़ उपयोग की जाती है,
  • इसकी जड़(root) अंदर से सफ़ेद और बाहर से हल्का पीला, काडी, मोती-पतली 8 से 16 सेमी लम्बी होती है,
  • औषधि के लिए इसकी जड़ को सुखाकर कर उपयोग किया जाता है|

असगंध पौधे के फूल गुच्छो में लगते है जो लाल या पीले रंग के होते है, और इसके बीज पीले रंग के छोटे, चिकने होते है| असगंध को भारतीय जिनसेंग के नाम से जाना जाता है

अश्वगंधा चूर्ण के फायदे – benefits of ashwagandha powder in hindi

असगंध को इस्तेमाल करने सेक्स पावर में वृद्धि होती होती है, इसको सेवन करने से वीर्य ज्यादा मात्रा में बनता है और गुणवत्तापूर्ण रहता है| ये नपुंसकता के लिए फायदेमंद होता है आयुर्वेद में असगंध रामबाण औषधि है ये यौन शक्ति बढाकर कर नपुंसकता को कम करता है

अश्वगंधा के औषधीय गुण, फायदे और नुकसान – Ashwagandha benefits and side effects in hindi

मर्दाना ताकत को बढ़ाने में रामबाण है अश्वगंधा – Ashwagandha Benefits For Sexual Health in hindi

जो लोग सेक्स करते समय थक जाते है या कमजोरी महसूस करते करते है उनके लिए बहुत की गुणकारी औषधि है

अश्वगंधा के सेवन से ठीक हो जाती है खांसी और अस्थमा

असगंध खांसी और अस्थमा में रामबाण औषधि है, इसका चूर्ण गरम दूध के साथ सुबह शाम लेने से खांसी और अस्थमा(साँस फूलना) में बहुत लाभ मिलता है

मानसिक तनाव से मुक्ति के उपाय करें अश्वगंधा जड़ से

अश्वगंधा के चूर्ण को लम्बी साँस के साथ सूंघने या भोजन के साथ खाने से तनाव को दूर को करता है, और बल प्रदान करता है|

मूड और स्वास्थ्य के लिए अश्वगंधा लाभ

  ये एक मस्तिष्क की बीमारी है जिसमे अश्वगंधा के सेवन से ये बीमारी ठीक होती है और मस्तिष्क को संतुलन बनाये रखता है| ये हमारे शरीर को रोंगो से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है

असगंध: गठिया में लाभ गठिया (आर्थराइटिस) में लाभ

असगंध एक खास परिशिष्ट {Supplement(Articulin-F)}है और दूसरी जड़ी-बूटियों के साथ मिला का प्रयोग करने से गठिया में लाभ होता है|

पेट की बीमारियां

असगंध शरीर के वात रोंगो में लाभदायक है| तीन भाग मिश्री, एक भाग सोंठ और दो भाग अश्वगंधा चूर्ण को सामान सुबह शाम लेने वात, गैस, पेट की बीमारियों से छुटकारा मिलता है|

अश्वगंधा पाउडर खाने से हाईट बढती है

ये लम्बाई बढ़ाने में बहुत ही लाभदायक होता है इसे एक ग्लास दूध में दो चम्मच घोलकर पीने से रुकी हुए लम्बाई बढ़ती है|

खून में वृद्धि

असगंध के प्रयोग से खून की मात्रा में वृद्धि होती है प्रतिदिन में दो-दो ग्राम लेने से खून की मात्रा को बढ़ा देता है|

ब्लड शुगर

इसके सेवन से ब्लड शुगर का स्तर कम होता है और मधुमेह के बीमारी पर नियंत्रण रखता है, इसके चूर्ण का इस्तेमाल कोलेस्ट्रॉल कम करने में भी होता है|

नींद न आने की बीमारी(अनिद्रा) में

अश्वगंधा काफी प्रभावशाली है, इसके इस्तेमाल से थकान मिट जाती है और नींद अच्छी आती है|

आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए

असगंध, मुलहठी और आंवला तीनो का सामान मात्रा में प्रयोग किया जाये तो आँख की रौशनी बढ़ती है|

Ashwagandha’s benefits – ये और भी बीमारियों में लाभदायक है

टूबरक्लोसिस(टी बी)
लीवर की बीमारी
सूजन
रोगो से लड़ने की क्षमता बढ़ाने में आदि

अश्वगंधा का सेवन कैसे करे – How To Take Ashwagandha in Hindi

अश्वगंधा जड़ बाजार में या तो पाउडर के रूप में, सूखे रूप में, या ताज़ा जड़ के रूप में उपलब्ध होती है।

आप 10 मिनट के लिए पानी में अश्वगंधा पाउडर को उबालकर अश्वगंधा की एक चाय बना सकते हैं। पानी के एक कप में पाउडर के एक चम्मच से अधिक प्रयोग न करें।

आप सोने से पहले अश्वगंधा जड़ पाउडर गर्म दूध के एक गिलास के साथ भी ले सकते हैं।

अश्वगंधा के गलत प्रयोग से हो सकते है यह नुकसान – ashwagandha side effects in hindi

  • असगंध को किसी और बीमारी के औषधि के साथ लेने से ये उस औषधि का प्रभाव कम कर सकता है
  • असगंध के ज्यादा सेवन से नींद ज्यादा आती है
  • गर्भवती स्त्रियों को तथा जिसके पेट में अलसर हो या खाली पेट हो उन्हें अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए

Buy Patanjali Ashwagandha Churna – Amazon

Rs. 112
Rs. 132
in stock
68 new from Rs. 90
Amazon.in
Free shipping
Rs. 72
Rs. 90
in stock
7 new from Rs. 72
Amazon.in
Rs. 200
in stock
6 new from Rs. 190
Amazon.in
Free shipping
Rs. 165
out of stock
7 new from Rs. 165
Amazon.in
Last updated on 23/10/2019 7:20 AM

-For the latest food news, health tips and recipes, like us on Facebook or follow us on Twitter.

About the author

inhindi

हम science, technology और Internet से संबंधित चीजों से संबंधित जानकारी शेयर करते हैं। Facebook, Twitter, Instagram पर हमें Follow करें, ताकि आपको ट्रेंडिंग टॉपिक पर Latest Updates मिलते हैं।

5 Comments

Leave a Comment