Home / Jyotish / Stone / एक्‍वामरीन से लाभ | aquarium stone Benefits in hindi

एक्‍वामरीन से लाभ | aquarium stone Benefits in hindi

एक्‍वामरीन से लाभ | aquarium stone Benefits in hindi – इसे हिन्‍दी में बैरूंज कहते हैं लेकिन सामान्‍य रूप से यह सभी जगह ‘एक्‍वामरीन’ के नाम से ही जाना जाता है। इसके हल्‍के और समुद्री नीले रंग के कारण इसका नाम ‘एक्‍वामरीन’ पड़ा है। अपनी सुंदरता और ज्‍योतिष में इसकी उपयोगिता के कारण सभी उपरत्‍नों में यह सबसे ज्‍यादा प्रचलित रत्‍न है।
यह कठोर रत्‍नों में से एक है। वैदिक ज्‍योतिष के अनुसार एक्‍वामरीन शुक्र का उपरत्‍न है और इसका संबंध वृष (टॉरस) और तुला (लिब्रा) राशि से है। ज्‍योतिष रेमिडी के लिए चांदी की अंगूठी में पहना जाता है।

कौन पहने एक्‍वामरीन:

यह शुक्र का उपरत्‍न है अत: शुक्र से संबंधित अच्‍छे लाभ प्राप्‍त करने के लिए इसे पहना जाता है। हीलिंग थेरेपी में भी यह रत्‍न अपनी उपयोगिता रखता है। इस रत्‍न को समुद्र से जोड़कर भी देखा जाता है अत: यह मन और हृदय से संबंधित है।aquamarine stone benefits in hindi

पहनने से लाभ:

ज्‍योतिष शास्‍त्र के अनुसार शुक्र से संबंधित अच्‍छे प्रभावों को प्राप्‍त करने के लिए एक्‍वामरीन धारण किया जाता है। साथ ही इसको धारण करने से व्‍यक्‍ति की प्रगति में कोई बाधा नहीं आती और वह समुद्र के समान विशालता और निरंतर चलने वाले गुण से बहुत नाम और धन प्राप्‍त करता है।
ऐसा प्रचलन है कि लंबी समुद्री यात्राओं से पहले इसे गुडलक के लिए पहना जाता था। शुक्र से संबंध प्रेम से भी जोड़ता है। इसे पहनने से लव-लाइफ में पॉजिटिविटी आती है।
यह इंडोक्राइन ग्‍लेंड पर भी सकारात्‍मक प्रभाव डालता है साथ ही हार्मोंनल बेलैंस को भी बरकरार रखता है।

एक्‍वामरीन की कीमत:

दूसरे रत्‍नों की तरह इसकी कीमत भी रंग, चमक और शुद्धता के आधार पर होती है। सामान्‍य तौर से भारत में यह 700 रू. से 3000 रू. प्रति कैरेट है। इसकी कीमत बेहतरीन चमक के साथ बढ़ती जाती है, ज्‍योतिष रेमिडी के लिए ज्‍यादा चमक वाला रत्‍न इस्‍तेमाल करना चाहिए।

गुणवत्‍ता:

ज्‍योतिषीय रेमिडी के लिए लिया गया एक्‍वामरीन स्‍पष्‍ट, आर-पार दिखने वाला तथा समुद्री नीले रंग का बेहतर माना जाता है। इसके अलावा इसमें कोई स्‍क्रेच या टूट-फूट (खंडित) नहीं होनी चाहिए।
फेंगशूई वास्‍तु के लिए भी यदि इस रत्‍न को खरीदा जा रहा है तो भी स्‍क्रेच या टूट-फूट वाला रत्‍न नहीं लेना चाहिए। यहां हल्‍के रंग के रत्‍न लिए जा सकते हैं जिनका दाम सस्‍ता होता है।

कहां से प्राप्‍त करें नेचुरल एक्‍वामरीन:

प्राकृतिक रूप से एक्‍वामरीन की खदानें भारत ओर ब्राजील में पाई जाती हैं। इसके अलावा भी कई दूसरे देश है जहां एक्‍वामरीन पाया जाता है।
लेकिन किसी ज्‍वेलरी की दुकान से या फिर ऑन लाइन यदि इसे खरीदते हैं तो हमेशा लैब टेस्टिंग का सर्टिफिकेट जरूर देखें।
नीलम रत्‍न | लहसुनिया रत्‍न पन्ना रत्‍न | गोमेद रत्‍न | मोती रत्‍न | मूंगा रत्‍न | माणिक रत्‍न | सफेद पुखराज रत्‍न पुखराज रत्‍न | हकिक रत्‍न | कठेला रत्‍न | ऐक्वमरीन रत्‍न | सुनेहला रत्‍न | ग्रीन तुरमुली रत्‍न लाजवर्त रत्‍न | दाना फिरंग रत्‍न | मून्स्टोन रत्‍न | ऑनिक्स रत्‍न | ओपल रत्‍न | पेरीडोट रत्‍न | सनस्टोन रत्‍न | तंजानाइट रत्‍न | टाइगर आई रत्‍न | फिरोजा रत्‍न

About Pooja

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *