गर्भावस्था

ये होते हैं गर्भावस्‍था के 10 शुरुआती लक्षण – early signs of pregnancy in hindi

symptoms of pregnancy
symptoms of pregnancy

हलाकि प्रेग्नेंसी टेस्ट करने के लिए बाजार में कई तरह के उपकरण और दवाइयां मौजूद हैं लेकिन गर्भ धारण करने के साथ ही महिला के शरीर में कई तरह के बदलाव शुरू हो जाते हैं. आप चाहें तो इन शुरुआती लक्षणों से जान सकती हैं कि आप गर्भवती हैं या नहीं. ये बताना जरूरी है कि ये सिर्फ लक्षण हैं. हो सकता है कि जो लक्षण दिखाई दे रहे हैं वो किसी दूसरी वजह से हों. symptoms of pregnancy in hindi.

ये होते हैं गर्भावस्‍था के 10 शुरुआती लक्षण – These are the 10 early signs of pregnancy

1.स्‍तनों में भारीपन – Heavyness in breasts

ये एक बेहद सामान्य लक्षण है. दरअसल, ब्रेस्ट के ऊतक हॉर्मोन्स के प्रति अति संवेदनशील होते हैं. गर्भ धारण करने के साथ ही शरीर में हॉर्मोनल चेंज होना शुरू हो जाते हैं. इससे ब्रेस्ट में सूजन आ जाती है या फिर भारीपन आ जाता है.

2. निपल का रंग – Nipple color

क्या आपको आपके निपल कुछ अलग दिख रहे हैं? गर्भावस्था के दौरान होने वाले हॉमोर्नल चेंज से melanocytes प्रभावित होती हैं. यानी इसका प्रभाव उन कोशिकाओं पर पड़ता है जो निपल के रंग के लिए उत्तरदायी होती हैं. गर्भ धारण करने पर निपल का रंग गहरा हो जाता है.

3. बार- बार पेशाब का आना – Frequent urination

प्रेग्‍नेंसी के शुरूआती दिनों में पेशाब बार – बार आती है क्‍योंकि इस दौरान आपका शरीर अतिरिक्‍त तरल पदार्थ उत्‍पादित करता है जिससे मूत्राशय पर दबाव पड़ता है और आपको बार – बार पेशाब के लिए जाना पड़ता है।

4. मितली आना और उल्टी होने जैसा लगना – Feeling nauseous and vomiting

मितली आना और उल्टी होने जैसा लगना - Feeling nauseous and vomiting

  • गर्भावस्था में दिन की शुरुआत काफी बोझिल होती है.
  • सुबह उठकर कमजोरी लगती है और मितली आती है.
  • कई बार कुछ खाने पर उल्टी जैसा महसूस होने लगता है.

गर्भावस्था में होने वाली उल्टी रोकने के 5 घरेलू उपाय 

5. सिरदर्द – Headache

गर्भावस्‍था का प्रारंभिक लक्षण सिरदर्द भी है क्‍योंकि इस अवस्‍था में हार्मोन में परिर्वतन होता है जिससे सिरदर्द होता है। ऐसे में अगर आप कन्‍फर्म है कि आप प्रेग्‍नेंट है तो सिरदर्द दूर करने के लिए ब्रुफेन जैसी सेफ दवाई का सेवन करें या डॉक्‍टर से सलाह लें।

6. पीठदर्द -Back Pain

अगर आपको पहले कभी भी पीठदर्द की समस्‍या से नहीं जूझना पड़ता था लेकिन आजकल पीठ में हल्‍का – हल्‍का दर्द रहता है तो इसका मतलब है कि आपके लिग्‍मेंट्स लूज हो रहे है। ऐसा आपकी गर्भावस्‍था के कारण हो रहा है जिसमें आपका वजन बढ़ता है और आपके पॉश्‍चर में परिवर्तन आता है

7. खाने से अरूचि होना

अचानक आपको खट्टे का ज्‍यादा मन होने लगा है और साधारण खाने से अरूचि होने लगी है तो समझिए कि आपके पेट में कोई नन्‍ही जान पल रही है। ऐसी अवस्‍था में भोजन से अरूचि होना और चटपटे भोजन को खाने का मन स्‍वाभाविक होता है, क्‍योंकि शरीर के हारमोन्‍स में परिवर्तन होने लगते है।

8. क्रेविंग – Cravings

क्रेविंग भी गर्भवती होने का एक प्रमुख लक्षण है. गर्भवती महिला में किसी विशेष चीज के प्रति आकर्षण बढ़ जाता है और हर वक्त वही खाने का दिल करने लगता है. कई बार ऐसा भी होता है कि इस दौरान महिला की डेली डाइट अचानक से बढ़ जाती है.

9. कब्ज की शिकायत हो जाना – Constipation complaint

हॉर्मोनल चेंज होने की वजह से पाचन क्रिया पर भी असर पड़ता है. पाचन क्रिया थोड़ी धीमी हो जाती है. ऐसे में महिला को अक्सर कब्ज की शिकायत रहने लगती है.

10. ब्‍लड़ स्‍पॉट आना

आपके पीरियडस के दिन आने वाले है और आप प्रेग्‍नेंट हो जाती है ऐसे में कभी – कभी स्‍पॉटिंग की दिक्‍कत आ ही जाती है। यह सामान्‍य से काफी हल्‍का होता है क्‍योंकि इस अवस्‍था में निषेचित अंडा, गर्भाशय की दीवार को गिरा देते है जिससे थोडी सी ब्‍लीडिंग होती है। अगर आपको इस बारे में कोई टेंशन हो, तो अपनी डॉक्‍टर से सलाह लें।

11. देर से पीरियड का आना – Late periods

गर्भावस्‍था के प्रारंभिक लक्षणों में से ए‍क लक्षण पीरियडस का देर से आना भी है। वैसे यह काफी कम होता है लेकिन होता है। अक्‍सर प्रेग्‍नेंट होने के बाद शुरूआत में ही पीरियडस आने बंद हो जाते है। अगर आपके पीरियडस नियमित रूप से आते है और इस बार देर हो रही है तो आप अपना परीक्षण जरूर करवा लें।