[1 Week Pregnant] गर्भावस्‍था के पहले सप्‍ताह में दिखाई देते हैं ये लक्षण

1 Week Pregnant symptoms in hindi में कई बार गर्भवती महिलाओं को इसकी जानकारी नहीं मिल पाती है, लेकिन उन लक्षणों को जानना और उसके अनुसार भोजन करना महत्वपूर्ण है। इन लक्षणों पर धायण नहीं देने पर कई बार गंभीर परिणामों का सामना करना पड़ता है।

Pregnancy symptoms week 1 in hindi: जानिए, क्या हैं गर्भावस्था में पहले हफ्ते के लक्षण

Pregnancy symptoms week 1:  गर्भावस्था को हर महिला के लिए सबसे महत्वपूर्ण क्षण माना जाता है। इसे जांचने के उपकरण के साथ-साथ बाजार में कई दवाएं उपलब्ध हैं। हालांकि, ये सभी चीजें गर्भ धारण के अगले महीने से काम करती हैं। इसका मतलब यह है कि प्रारंभिक अवस्था में आप इस बात से अवगत नहीं हैं कि आप गर्भवती हैं, इस वजह से आप न तो जान सकती हैं कि भोजन क्या है, एहतियाती उपाय क्या हैं। गर्भवती महिला के लिए गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों को पहचानना बेहद जरूरी है, जिसके लिए आपको अपने शरीर में होने वाले हर बदलाव का एहसास करना होगा। आइए जानें, पहले सप्ताह में गर्भावस्था के लक्षणों के बारे में। बता दें कि मासिक धर्म का बंद होना गर्भावस्था का लक्षण माना जाता है।

गर्भावस्था के कारण हार्मोनल परिवर्तन के कारण पाचन तंत्र भी प्रभावित होता है, जिसके कारण कब्ज (constipation) की समस्या होती है।

गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में लाइव मिजाज, उल्टी और कई बार पेशाब आना शामिल है। महिला अन्य गर्भधारण पर थकान की शिकायत करती है। वहीं, कुछ महिलाओं को सिर दर्द के साथ-साथ सिर में सूजन भी होती है।

गर्भावस्था के दौरान, गर्भवती महिला के मुंह का स्वाद कड़वा हो जाता है। ऐसी स्थिति में, यह केवल भोजन के बजाय नमकीन चीजों का स्वाद लेने के लिए लगता है।

शरीर में परिवर्तन:

गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में गर्भवती महिलाओं को अचानक स्तन में भारीपन महसूस होता है। अचानक चेहरे पर अजीब सी झाइयां पड़ जाती हैं। ये परिवर्तन गर्भावस्था के पहले 6 महीनों में या अंतिम 6 महीनों में होते हैं।

बाल विकास:

गर्भावस्था के पहले सप्ताह में, निषेचित अंडे विभाजित होते हैं। कोशिकाओं के इस खोल को विज्ञान की भाषा में ब्लास्टोसाइट्स कहा जाता है।

अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट:

पहले हफ्तों में, किसी भी बच्चे की कोई अल्ट्रासाउंड छवि नहीं होती है।

आहार:

अपने आहार में पानी, हरी सब्जियां, फल, साबुत अनाज और दालों का अधिक सेवन करें। विटामिन सी युक्त फल खाएं

प्रेगनेंसी टिप्स:

एक स्वस्थ जीवन शैली रखें, ड्रग्स आदि से दूर रहें। डॉक्टर द्वारा दिए गए फोलिक एसिड की खुराक नियमित रूप से लेते रहें। तनाव से दूर रहें। हल्की कसरत करें लेकिन ज्यादा कूदने से बचें। कहीं यात्रा न करें।