सुखमय स्वस्थ जीवन के सूत्र, स्वस्थ रहने के उपाय

2022

स्वस्थ जीवन के सूत्र : सुखमय स्वस्थ जीवन के सूत्र, स्वस्थ रहने के उपाय  

सर्दियों में ऊर्जा दायक गुड़: स्वस्थ रहने के उपाय

गुड़ में काफी मात्रा में लोह तत्व, विटामिंस, एंटी एलर्जिक तत्व अन्य खनिज लवण पाए जाते हैं। गुड की तासीर गर्म होती है। इसलिए इसके सेवन से जुकाम दमा और कफ की परेशानी ठीक होती है। अतः प्रतिदिन गुड का सेवन जरूर करें।

बुखार में अजवाइन का उपयोग: स्वस्थ जीवन के सूत्र

ठंड में बुखार होने पर एक चौथाई चम्मच अजवाइन का चूर्ण दिन में दो बार गुनगुने पानी से सेवन करें। इस प्रयोग से शीघ्र ही बुखार उतर जाता है।

अस्थमा: स्वस्थ रहने के उपाय

हल्दी को पीसकर चूर्ण बना लें। तथा इस चूर्ण को सुखी कढ़ाई में भून कर ठंडा होने पर शीशी में भरकर रख लें। यह चूर्ण एक छोटी चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन गर्म पानी या गर्म दूध के साथ सेवन करने से अस्थमा में बहुत लाभ मिलता है।

गुणों की खान टमाटर: स्वस्थ जीवन के सूत्र

टमाटर गुणों की खान होने के साथ साथ स्वाद का भी राजा है। जिसमें प्रोटीन, वसा, विटामिंस है। यह सेब और संतरा दोनों के गुणों से युक्त होता है। टमाटर के सेवन से पाचन शक्ति बढ़ती है। तथा नजला, जुखाम, दांतों की बीमारी तथा मधुमेह में भी लाभ होता है।

बुखार में उपयोगी लौंग : स्वस्थ रहने के उपाय

लौंग पीसकर गुनगुने पानी से फांक ले। दिन में दो बार प्रयोग करने से बुखार में लाभ होता है।

सर्दी जुखाम में मेथी का प्रयोग:

मेथी का सेवन अत्यंत लाभकारी है। जिन्हें हमेशा सर्दी जुकाम की शिकायत बनी रहती है। उन्हें मेथी की सब्जी का सेवन करना चाहिए। श्वास नली की सूजन 5-6 लौंग  आधे  गिलास पानी में उबालें। ठंडा होने पर थोड़ा सा शहद मिलाकर, एक दो चम्मच की मात्रा में दिन मे तीन बार लेने से सांस नली की सूजन में लाभ मिलता है।

खांसी जुकाम का अचूक उपचार: स्वस्थ रहने के उपाय

लगभग सौ ग्राम गुड़ में आधा चम्मच पिसी हुई सोंठ तथा एक चौथाई चम्मच पिसी हुई काली मिर्च मिलाकर इसे चार भागों में बांट लें। इसे दिन में 4 बार सेवन करने से खांसी तथा जुकाम में लाभ मिलता है।

बच्चों का स्वास रोग : स्वस्थ जीवन के सूत्र

बच्चों के श्वास रोग में आधा चम्मच शहद  में तुलसी के पत्तों का 5 बूंद रस मिलाकर पिलाने से बहुत लाभ मिलता है।

सूखी खांसी का अचूक उपचार:

काली मिर्च तथा मिश्री बराबर मात्रा में पीस लें। इस चूर्ण में देसी घी मिलाकर, छोटी-छोटी गोलियां बना ले। एक एक गोली दिन में दो से तीन बार चूसने से सभी प्रकार की सूखी खासी ठीक हो जाती है।

  1. पोषक ततवो का भंडार है कीवी जाने इसके फायदे
  2. टी ट्री ऑयल के द्वारा चेहरे की खूबसूरती बढ़ाना और रंग को निखारना।
  3. विटामिन ई यानी फायदे ही फायदे
  4. दादी मां के घरेलू नुस्खे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.