Home / घरेलु नुस्खे / weight Loss / 15 मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

15 मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय – मोटापा यह सब सुनते ही दिमाग में एक बेडौल शरीर की आकृति उभरकर आ जाती है। मोटापे से ग्रसित लोग इससे छुटकारा पाने के लिए ना जाने क्या-क्या उपाय करते हैं। आज पूरे विश्व में मोटापा एक बहुत ही गंभीर बीमारी का रूप लेता जा रहा है । मोटापा बढ़ने से व्यक्ति का शरीर तमाम तरह की बीमारियों से युक्त हो जाता है। क्या आपको पता है? मोटापे के कारण डायबिटीज, कैंसर जैसी भयानक और लाइलाज बीमारी होने का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा होने का मुख्य कारण

अक्सर यह बीमारी उन्हीं लोगों को होती है। जो आराम प्रस्त होते हैं। यानि जो आपने शरीर से कोई शारीरिक श्रम नहीं करते। आराम की जिंदगी बसर करते हैं। इसका एक मुख्य कारण यह भी है।आजकल की लाइफस्टाइल बदल गई है। सभी चीज हमें आसानी से उपलब्ध हो जाती है। पुराने समय में लोगों को वजन बढ़ने जैसी शिकायत नहीं होती थी। क्योंकि वह अपने शरीर से शारीरिक परिश्रम करते थे।

15 मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

इस समय यह बीमारी हर उम्र के लोगों को हो रही है। फिर चाहे बच्चा हो, जवान हो, या बूढ़ा। यह बीमारी किसी को नहीं छोड़ रही। जिसके कारण छोटे बच्चों को नाना प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है।

बाहर की चीजों का सेवन ज्यादा करना

आजकल लोग समय की कमी के कारण और बिजी लाइफस्टाइल की वजह से घर पर खाना नहीं बना पाते। खासकर वह लोग जो ऑफिस आदि में काम करते हैं। आजकल जंक फूड का फैशन हो गया है। लोग तली बुजी चीजों का सेवन ज्यादा करने लगे हैं। क्योंकि इन चीजों में वसा की मात्रा बहुत ज्यादा होती है और यह पचने में भी बहुत टाइम लेता है। यह भी शरीर में चर्बी को बढ़ाने का एक मुख्य कारण है।

आलसी स्वभाव

आजकल की जीवन शैली बहुत ही आलसी हो गई है। शरीर से कोई मेहनत नहीं करना चाहती। बहुत ही कम लोग होते हैं। जो खेल कूद, व्यायाम या और कोई भागदौड़ वाला काम करते हैं। वरना बहुत से लोग कंप्यूटर, मोबाइल, वीडियो गेम इन्हीं चीजों में अपनी दिनचर्या व्यतीत करते हैं। बच्चे, बूढ़े, जवान हर कोई अपनी दिनचर्या में बहुत ही कम मेहनत शरीर से करते हैं। जिसके कारण शरीर में कैलोरी की खपत नहीं हो पाती और शरीर का वेट बढ़ने लगता है।

आरामदायक काम

आजकल शरीर का वजन उन लोगों का ज्यादा बढ़ रहा है। जो बैठे-बैठे काम करते हैं। जिनका चलना-फिरना बहुत कम होता है। कुर्सी पर बैठकर कंप्यूटर पर काम करना या कोई ऑफिस का काम करना। आदि कामों से शरीर में ऊर्जा की खपत नहीं होती और शरीर में अतिरिक्त चर्बी घटने की बजाय बढ़ने लगती है। जोकि वेट गेन का मेन कारण है।

जरूरत से ज्यादा भोजन करना

बहुत से लोग स्वादिष्ट खाने को देखकर अपने मन को रोक नहीं पाते और वह जरूरत से ज्यादा खा लेते हैं। भोजन मैं अति करना शरीर के लिए सही नहीं होता। आजकल लोग हर घड़ी कुछ ना कुछ खाते रहते हैं। यह भी मोटापे को बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

वजन को बढ़ाने में तनाव की भूमिका

जो लोग बहुत ज्यादा तनाव लेते हैं। वह डिप्रेशन, अवसाद जैसी बीमारी को तो निमंत्रण देते ही हैं। साथ ही साथ इससे उनका शरीर भी मोटा होता चला जाता है।
इसके अलावा और बहुत से कारण है। जो मोटापे को बढ़ाने में योगदान देते हैं। जैसे : दवाइयों के सेवन से भी मोटापा बढ़ता है। क्योंकि विभिन्न प्रकार की दवाइयों का सेवन करने से शरीर में इन दवाइयों का साइड इफेक्ट होने लगता है। जिसके कारण शरीर मोटापे की गिरफ्त में आज आ जाता है। पैदल ना चलना, खाना खाकर ज्यादा पानी पीना, लेटे लेटे खाना आदि बहुत से कारण हैं। जिससे मोटापा बढ़ जाता है।

मोटापे को कैसे कम करें या वजन कैसे घटाएंमोटापे को कैसे कम करें या वजन कैसे घटाएं, मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा, वजन बढ़ना बहुत ही गंभीर समस्या है। यह व्यक्ति के शरीर का आकर्षण तो खत्म करती है। साथ ही कई बीमारियों को निमंत्रण भी देती है। इसलिए इससे छुटकारा पाना बहुत जरूरी है। अगर आप मोटापे से छुटकारा पाना चाहते हैं। तो आपके लिए कुछ उपाय और तरीके सुझाए जा रहे हैं। उनको आप अपनाएंगे तो निश्चित ही आपको मोटापे से छुटकारा मिल जाएगा। आजकल लोग ज्यादातर पेट की चर्बी से परेशान है। पेट की चर्बी बढ़ने का मुख्य कारण आराम तलब जिंदगी है। बैठे बैठे काम करने से पेट निकल जाता है। क्योंकि इससे शरीर में जमा अतिरिक्त कैलोरी खत्म नहीं हो पाती। और वह चर्बी को बढ़ाती है। मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय, motapa kam karne ke upaye in hindiमॉर्निंग वॉक सुबह की सैर

मोटापे को कम करने के लिए और पेट की चर्बी को जलाने के लिए सुबह कम से कम 5 किलोमीटर की मॉर्निंग वॉक करें। इससे शरीर में गर्मी बढ़ेगी और शरीर में फुर्ती भी आएगी।

योगासन करें

योगासन करने से शरीर शरीर की गतिविधि बढ़ती है। जिसके कारण शरीर में जमा अतिरिक्त फैट धीरे धीरे खत्म होने लगता है। पेट की चर्बी को घटाने के लिए धनुष आसन बहुत ही बढ़िया आसन है। इसको करने के लिए।motapa ghatane ke upay,DHANURASAN

  1. आप सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं। इस अवस्था में आपके हाथ नीचे की ओर होने चाहिए।
  2. धीरे-धीरे अपने पैर और सिर और कंधे ऊपर की ओर उठाएं।
  3. सही पोजिशन आने पर अपने हाथों से पैरों को कसकर पकड़ ले।
  4. इस पोजीशन में करीब 10 सेकंड तक बने रहें।

इसके अलावा पश्चिमोत्तानासन आसन करना लाभ कारी होता है। इस आसन क्रिया में आपके पेट पर दबाव पड़ता है। जिसका सीधा प्रभाव आपके पेट की चर्बी पर पड़ता है। जिसके कारण आपका पेट अंदर की तरफ रहता है। अगर आपका पेट को बहुत ही ज्यादा बाहर आ गया है। तो यह आसान आपके लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी है।

पेट कम करने के लिए योगासन बहुत ही फयदेमंद है।

सवेरे उठ के 20 मिनिट तक आप कोई एक या दो योगासन, जो आप के लिए अनुकूल है। और आसान है वो ही करे। योगा में वक्रासना, भुजंगासन, त्रिकोनसन, पाशचिमोत्तासन, गरुर्ढआसन, उत्कतसना, अर्धचंदारसना और शलभासना जैसे आसान वजन नियंत्रण करने में और मोटापा कम करने में मदद रूप है। कई आसन कठिन है। इसीलिए जो आसान है वो करे, मगर नियमित करे। मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

भरपूर नींद लें

जो लोग कम सोते हैं। या दिन में सोते हैं। वजन बढ़ने का खतरा उन लोगों में ज्यादा रहता है। इसलिए यह जरूरी है। कि आप पूरे दिन की थकान के बाद 6 से 8 घंटे की भरपूर नींद लें। यदि आप कम सोयेंगे तो। इससे आपके शरीर में फैट को बढ़ाने वाले हार्मोन सक्रिय हो सकते हैं। इसलिए भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है। और दिन में सोने से बचे।

पौष्टिक और संतुलित भोजन करें

अगर आप पेट को कम करना चाहते हैं। तो इसके लिए भी बहुत जरूरी है कि आपका आहार संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर हो। आप अपने आहार में फल और सब्जियों का सेवन अधिक करें। खाने में विटामिन सी की भरपूर मात्रा फैट को कम करने में काफी मदद करती है। विटामिन सी से युक्त आहार जैसे कि नींबू, अंगूर, बेर और संतरे खाने से शरीर के वसा बहुत जल्दी जलने लगती है। और आपका शरीर एक सुडोल शरीर में बदल जाता है। इसके अलावा आप अपने भोजन में गाजर, पत्ता गोभी, ब्रोकली, सेब और तरबूज आदि फलों और सब्जियों का सेवन कर सकते हैं। यह शरीर से अतिरिक्त वसा को कम करने में बहुत मदद होते हैं।

तनाव या चिंता ना करें

चिंता करना या तनाव लेना मोटापे को बढ़ाने मैं बहुत बड़ा योगदान देते हैं। इसलिए अगर आप मोटापे को कम करना चाहते हैं, तो अपने मस्तिष्क से तनाव को दूर हटाए। हालांकि आजकल की लाइफस्टाइल में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं है। जिसे तनाव ना हो। तनाव होने के बहुत से कारण हो सकते हैं। लेकिन फिर भी आपको अपने दिमाग को शांत रखना होगा। इसके लिए आप मेडिटेशन और ध्यान कर सकते हैं। तनाव लेने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बहुत धीरे हो जाता है। जिसके कारण शरीर में जमा अतिरिक्त कैलोरी खत्म नहीं हो पाती और मोटापा बढ़ता ही जाता है। मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

इन्हे भी पढ़े :

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय
करेले का जूस सवेरे उठ के खाली पेट करेले का जूस पीना याने आप चर्बी को आसानी से पिघला सकते है।
गरम पानी का सेवनदिन भर गरम पानी का सेवन करे। गरम पानी में नींबू और अदरक का रस हो तो और भी बेहतर है। काली मिर्च डाले तो गुण और बढ़ जाएँगे। गरम चाय, बिना दूध और शक्कर के आप सेवन करे तो भी यह फ़ायदा मिलेगा। गरम पानी से पाचन तंतरा सुधर जाता है। और गतिविधि बढ़ती है जिस से आप का शरीर चर्बी को अच्छी तरह से उपयोग करके जला देता है।
कच्चे पपीता का सेवनमोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय में एक श्रेष्ट उपाय है की आप हर रोज भोजन के साथ कच्चे पपीता का सेवन करे। कदु कस कर के खाए। खाना खाने के बाद पक्का पपीता खाने से भी अत्यंत लाभ होता है।
उपयोग ना करेमोटापा कैसे कम करें – इस प्रश्न से परेशान ना रहे। बस, शौक से दही का सेवन करे। छाछ बना के पिए तो भी उत्तम है मगर ध्यान रहे की शक्कर (चीनी) का उपयोग ना करे।
 मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय में अब चीनी की ही बात करे तो इस को अपने जीवन से बिल्कुल दूर हटा दे और इस के बदले stevia powder का उपयोग करे जो कुद्रती शक़ऱ पदार्थ है जिस में calories बिल्कुल नहीं होते है।
प्याज़, लहसुन और हरी मिर्चआप ने देखा होगा मज़दूर लोगों का और खेतो में काम करने वाले लोगों का और गाँव में रहने वालो का पेट कभी बढ़ा हुआ नहीं होता है। इस का राज़ है प्याज़, लहसुन और हरी मिर्च। आप भी इन तीन तत्वो का हर रोज कच्चा ही सेवन करे, चट्नी के रूप में या तो किसी और तरीके से और रहे चर्बी से मुक्त।
मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपायहर रोज सवेरे उठ के करेले का जूस पीने की आदत डाले और इस के साथ लौकी, चुकंदर, गाजर और पत्तागोभी को भी अगर शामिल करे तो और भी फ़ायदा होता है।
गेहू के आटे की रोटी ना खाए। चने का आटा और जौ के आटे का इस्तेमाल करे
भारी भोजन करने के बदले आप सिर्फ़ हल्का और कम मात्रा में खाए। दिन में 2 बार भारी भोजन से 4-5 बार थोड़ा-थोड़ा खाना बेहतर है।

Motapa kam Karne ke asaan gharelu upchar मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

2 comments

  1. अच्छा लेख ! मैंने अमृता फार्मा के लिंटो प्लस वेट कम करने का इस्तेमाल किया और यह काम करता है। यह 100% आयुर्वेदिक है और मेरा वजन अब तक बढ़ा नहीं है | आप इसे इस्तेमाल करे और आपको १०० परसेंट रिजल्ट आएगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *