Pregnancy

डिलीवरी के बाद नहीं आ रहा ब्रेस्‍ट में दूध, इस दूध बढ़ाने के उपाय से बढ़ाएं मां का दूध

गर्भावस्था और प्रसव के बाद, एक महिला के शरीर को स्तनपान के लिए तैयार करना पड़ता है। स्तन में पर्याप्त दूध मिलना बहुत जरूरी है क्योंकि मां का दूध ही बच्चे के लिए पोषण और भोजन का एकमात्र स्रोत है।

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के आंकड़ों के अनुसार, लगभग 75 प्रतिशत महिलाएं प्रसव के बाद पहले महीनों में अपने बच्चे को बहुत जल्दी दूध पिलाना बंद या बंद कर देती हैं। इसका एक मुख्य कारण स्तन में पर्याप्त दूध न बन पाना भी होता है।

अगर आपको भी डिलीवरी के बाद ब्रेस्ट में दूध कम होने की शिकायत है तो यहां हम आपको एक ऐसी रेसिपी बताने जा रहे हैं जो ब्रेस्ट में दूध का प्रोडक्शन बढ़ाएगी और आपके बच्चे का पेट भर देगी।

यह भी पढ़ें: ब्रेस्‍ट को सुडौल कैसे बनाएं?

मां का दूध बढ़ाने के उपाय

ब्रेस्ट में दूध बढ़ाने के उपाय

ब्रेस्ट में दूध बढ़ाने का घरेलू तरीका इस प्रकार है:

  • सबसे पहले एक पैन में 6 चम्मच जीरा डालें। इस दौरान आंच धीमी ही रखें।
  • जीरा को हल्का सा भून लें और फिर एक प्लेट में निकाल लें.
  • जीरा ठंडा होने पर इसे मिक्सी में पीस कर पाउडर बना लें.
  • अब जीरा पाउडर को प्याले में निकाल लीजिए.
  • फिर एक कटोरी लें और उसमें आधा चम्मच जीरा पाउडर डालें। इसके बाद इसमें आधा चम्मच शतावरी पाउडर मिलाएं।

कैसे सेवन करें

अब आप भी जानिए जीरा और शतावरी पाउडर से तैयार की गई रेसिपी को खाने का तरीका. ऊपर तैयार की गई मात्रा का सेवन करने के बाद रोज सुबह एक गिलास दूध पिएं। इसे आप दूध के साथ शाम या रात में भी ले सकते हैं।

इस नुस्खे के बाद तुरंत स्तन में दूध बनने लगता है। इस नुस्खे का सेवन आपको लगातार सात दिनों तक करना है।

यह भी पढ़ें: 10 प्रेगनेंसी के शुरूआती लक्षण

मां का दूध बढ़ाने के उपाय

स्तन में दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए आपको अपने आहार में निम्नलिखित चीजों को शामिल करना चाहिए:

1. प्रसव के पांच से छह दिन बाद महिलाओं को जीरा बनाकर उसमें मेवे और गुड़ मिलाकर खाना चाहिए। जीरा ब्रेस्ट में दूध बनाने में मदद करता है।

2. गर्भावस्था के दौरान और प्रसव के बाद कम से कम 3 से 4 महीने तक रोजाना दूध पिएं। अगर आपके ब्रेस्ट में दूध कम आ रहा है तो अपने खाने में लहसुन का इस्तेमाल करना शुरू कर दें। रोज सुबह एक गिलास गुनगुने पानी के साथ लहसुन की एक कली का सेवन करें। अगर आपको गर्भावस्था के दौरान गैस की समस्या है तो एक दिन को छोड़कर एक दिन खाएं। 15 से 20 मिनट लहसुन खाने के बाद बादाम भी प्रोटीन के लिए खा सकते हैं।

3. ओट्स और अन्य साबुत अनाज में दूध बढ़ाने की शक्ति होती है। यह बीटा ग्लूकेन का अच्छा स्रोत है जो शरीर में प्रोलैक्टिन के स्तर को बढ़ाता है। आप आटे और सूप में ओट्स मिला सकते हैं।

4. तिल और सौंफ को भून कर चूर्ण बना लें और पानी के साथ मिला लें. आप इसे सब्जियों में डालकर भी ले सकते हैं।

5. प्रसव के बाद अच्छी देखभाल की मदद से स्तन में दूध का उत्पादन भी बढ़ाया जा सकता है। हेल्दी स्नैक्स खाएं और पानी पीते रहें।

Inhindi News: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Inhindi फेसबुक पेज लाइक करें

यह भी पढ़ें: 

Leave a Comment