Uncategorized

कब्ज के लिए घरेलू नुस्खे उपचार | kabj ke gharelu nuskhe in hindi

कब्ज रोगों की जड़ है। इसलिए कब्ज को खत्म करना बहुत जरूरी है। पेट में कब्ज बनने के कारण शरीर में कई तरह की बीमारियां होने लगती हैं। और शरीर बीमारियों का घर हो जाता है। यहाँ आपके लिए लाए हैं। कुछ आसान घरेलू उपचार। जिनसे मलबद्धता को आसानी से खत्म किया जा सकता है।

कब्ज के लिए घरेलू नुस्खे उपचार   constipation home remedies

सुबह उठकर तांबे के बर्तन में रखे हुए पानी को आधे से 1 लीटर की मात्रा में रोजाना पीना चाहिए।  इससे पेट साफ होता है। और कब्जियत की समस्या से छुटकारा मिलता है।

कब्ज के लिए घरेलू नुस्खे

पेट साफ होने के उपाय लिए के बेसन या चने

भोजन में बेसन या चने के आटे का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए।
दिन में भुने हुए चने (छिलके वाले )खूब चबा-चबाकर खाने से constipation रोग चला जाता है।

कब्ज के लिए  कच्ची सब्जियों

भोजन में कच्ची सब्जियों, प्याज, मूली,गाजर, गोभी, खीरा, ककड़ी और टमाटर का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए।
खाना खाने के बाद कोई भी फल खाना लाभदायक होता है। आप चाहे तो टमाटर भी खा सकते हैं।

कब्ज का उपचार – केले

constipation की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ज्यादा से ज्यादा केले खाने चाहिए। केले खाने से कब्जियत की समस्या खत्म हो जाती है।

कब्ज दूर करने के लिए त्रिफला

महीन पिसा हुआ त्रिफला 1 से 3 ग्राम की मात्रा में शुद्ध जल के साथ या फिर एक गिलास दूध में 10 ग्राम घी मिलाकर लेने से आंतों की खुश्की खत्म हो जाती है। और बड़ा से बड़ा कब्ज भी ठीक हो जाता है।
इन्हे भी पढ़े :

Search tags : उपचार |  कारण | पुरानी कब्ज | आयुर्वेदिक इलाज |  दवा | पेट साफ होने के उपाय | कब्ज के लक्षण | constipation home remedies | constipation meaning | constipation causes | constipation back pain |  kabj ki bimari

About the author

inhindi

हम science, technology और Internet से संबंधित चीजों से संबंधित जानकारी शेयर करते हैं। Facebook, Twitter, Instagram पर हमें Follow करें, ताकि आपको ट्रेंडिंग टॉपिक पर Latest Updates मिलते हैं।

2 Comments

  • Pet saaf karne ke upay
    Khali pet hi yogasan ka abhyas kare
    Yoga khali pet karna hi achcha hota hai. Aap yogasan khana khane ke 2-3 ghante baad bhi kar sakte ho. Kyon ki aisa ho sakta hai ki aap ko aaj koi alag yoga karne the ya phir aap kuch yagasan karna bhul gaye aur khana khan ke baad aapko yaad aaye to aap sochte hai chalo ab kar leta hu kuch nahi hota, per aise bilkul mat kijiye. Agar koi yogasan rah jaye to dusre din karle.

Leave a Comment